अब प्रवासी मजदूर हिमाचल के डिपुओं में ले सकेंगे सस्ता राशन
May 18th, 2020 | Post by :- | 226 Views

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सोमवार को शिमला में प्रवासी मजदूरों के लिए ‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ योजना के अंतर्गत खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले विभाग की अंतरराज्यीय पोर्टेबिलिटी योजना का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना से उपभोक्ताओं को देश में कहीं भी उचित मूल्य की दुकानों से राशन लेने में सहायता मिलेगी। कहा कि इसे राशन कार्ड की राष्ट्रीय पोर्टेबिलिटी योजना के अंतर्गत किया जाएगा। योजना से देश के लगभग 67 करोड़ लोगों लोगों को लाभ मिलेगा। इनमें हिमाचल के लाखों लोग भी शामिल हैं।
जयराम ने कहा कि केंद्र सरकार ने देश के लगभग आठ करोड़ प्रवासी मजदूरों को दो महीने के लिए मुफ्त अनाज देने का निर्णय लिया है। जिन मजदूरों के पास राशन कार्ड नहीं हैं, उन्हें भी हर महीने प्रति व्यक्ति निशुल्क पांच किलो आटा अथवा चावल और एक किलो दाल दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश को 2864.46 टन खाद्य सामग्री आवंटित की गई है, जिससे प्रदेश सरकार को लक्षित समूहों तक राशन प्रदान पहुंचाने में सुविधा होगी। मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुंडू, सचिव खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति अमिताभ अवस्थी और निदेशक खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति आबिद हुसैन सादिक भी उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।