देवरिया महोत्सव: बाबा रामदेव ने कैलाश खेर संग गया वंदेमातरम, बांधा समां
January 27th, 2020 | Post by :- | 218 Views

देवरिया. उत्तर प्रदेश के देवरिया महोत्सव 2020 में सोमवार को बॉलीवुड सिंगर कैलाश खेर ने योग गुरु बाबा रामदेव के साथ गीत गाकर समां बांध दिया. बाबा रामदेव और कैलाश खेर ने वंदेमातरम् गीत गाकर लोगों का मनोरंजन किया. इस दौरान बाबा रामदेव ने कैलाश खेर के साथ अपनी गायकी का जलवा बिखेरा. अपने परफॉरमेंस के दौरान कैलाश खेर ने एक छोटी लड़की के साथ भी मंच साझा किया और गीत गाए.
इससे पहले देवरिया महोत्सव में सोमवार के दिन की शुरुआत योगगुरु बाबा राम देव के योगाभ्यास से हुई. जिला मुख्यालय के सुगर मिल ग्राउन्ड पर सुबह 5 बजे से 8 बजे तक योगाभ्यास से हुआ जिसमें जिला प्रशासन के अफसर समेत आम लोगों ने भी योग किया किया.
अपने परफॉरमेंस के बाद मिडिया से बात करते हुए योगगुरु रामदेव ने कहा कि गंगा यात्रा हमारी आस्था का बहुत बड़ा केंद्र है. जन्म से जन्मांतर तक हमारा उनसे अध्यात्मिक रिश्ता है और हमारी संस्कृति का भी उसके साथ बहुत ही गहरा संबंध है. इसी संकल्प के साथ गंगा की अविरलता, निर्मलता व पवित्रता का अभियान भी चलाया गया. लेकिन किसी भी अभियान को निरंतरता से गति देने की आवश्यकता होती है. तभी वह जाकर सफल होता है.
बाबा रामदेव ने बताया पतंजलि को 1 लाख करोड़ की कंपनी बनाने का प्लानबाबा रामदेव ने बताया पतंजलि को 1 लाख करोड़ की कंपनी बनाने का प्लानदीपिका को बाबा रामदेव से मिली सलाह बोले- मुझ जैसा कोई सलाहकार रख लेना चाहिएदीपिका को बाबा रामदेव से मिली सलाह बोले- मुझ जैसा कोई सलाहकार रख लेना चाहिएबाबा रामदेव ने मोदी सरकार की तारीफ, नोटबंदी और जीएसटी को लेकर कही ये बड़ी बातेंबाबा रामदेव ने मोदी सरकार की तारीफ, नोटबंदी और जीएसटी को लेकर कही ये बड़ी बातेंबाबा रामदेव की Patanjali ने रुचि सोया को खरीदा, बोले 5000 करोड़ का करेंगे निवशबाबा रामदेव की Patanjali ने रुचि सोया को खरीदा, बोले 5000 करोड़ का करेंगे निवशमोदी सरकार के इस फैसले की बाबा रामदेव ने की तारीफ, किसानों को मिलेगी बड़ी राहतमोदी सरकार के इस फैसले की बाबा रामदेव ने की तारीफ, किसानों को मिलेगी बड़ी राहत
वहीं सीएए और एनआरसी पर कहा कि इस समय देश में इनके नाम पर जो घटनाक्रम हो रहा है. झूठ और गलतफहमी के आधार पर लोगों को बरगला करके उनके मन में एक बेवजह भय पैदा करने का गैर जिम्मेदाराना कार्य कुछ राजनीतिक दल कर रहे हैं. देश के सब मुसलमान हिंसा की घटना में शामिल नहीं हैं. देश के करोड़ों मुसलमान भी देशभक्त हैं.

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।