नशीला पदार्थ रखने के आरोप में सुनाई 3 साल की कैद व जुर्माना की सजा
February 20th, 2019 | Post by :- | 298 Views
कुरुक्षेत्र, ( सुरेशपाल सिंहमार )   ।        अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश कुरुक्षेत्र की अदालत ने एक व्यक्ति को चूरापोस्त रखने के आरोप में तीन साल की कैद व जुर्माना की सजा सुनाई। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश कुरुक्षेत्र की अदालत ने 5 किलोंग्राम चूरा पोस्त रखने के आरोप में दोषी जयपाल सिहं पुत्र रिसाला सिहं वासी टयूक्र जिला कुरूक्षेत्र को 3 साल की कैद व 50 हजार रूपये जुर्माना की सजा सुनाई। जुर्माना न भरने की सूरत में 6 महीने की अतिरिक्त सजा काटनी होगी । यह जानकारी उप जिला न्यायवादी श्री प्रदीप कुमार चीमा ने दी।
           यह जानकारी देते हुए श्री चीमा ने बताया कि 24 मार्च 2017 को अपराध शाखा -2 के उ० नि० बलजीत सिहं, हवलदार नरेश कुमार, सी-1 अरविन्द कुमार, सिपाही जयपाल की टीम गस्त के दौरान बोधनी से गांव टयूकर की तरफ जा रहे थे कि इसी समय बस स्टाप टयूकर की तरफ से एक व्यक्ति को पैदल आते हुए दिखाई दिया जो सामने पुलिस को देख कर एकदम मुडकर दुकानों की तरफ चलने लगा। जिसकों शक के आधार पर रोक कर चैक किया तो उसके कब्जे से 5 किलों ग्राम चूरा पोस्त बरामद हुआ। नाम व पता पूछने पर उसने अपना नाम जयपाल सिहं पुत्र रिसाला सिहं वासी टयुक्र जिला कुरूक्षेत्र बताया पुलिस ने आरोपी को काबू करके उसके विरूध थाना पेहवा मे नशीली वस्तु अधिनियम के तहत मामला दर्ज करके गिरफतार करके चालान तैयार करे चालान को माननीय अदालत मे पेश किया । जिसकी नियमित सुनवाई करते हुए माननीय न्यायधीश श्री राजेन्द्र पाल सिहं की अदालत ने गवाहों एवं सबूतों के आधार पर जयपाल सिहं पुत्र रिसाला सिहं वासी टयूक्र जिला कुरूक्षेत्र को दोषी करार दिया और दोषी को तीन साल की कैद व 50 हजार रुपए जुर्माना की सजा सुनाई । जुर्माना न देने की सूरत में 6 महीने की अतिरिक्त सजा काटनी पड़ेगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।