फर्जी तरीके से भर्ती हुए नौ पुलिस कर्मचारियों पर एफआईआर
January 18th, 2020 | Post by :- | 243 Views

पुलिस भर्ती लिखित परीक्षा के फर्जीवाड़े के मुख्य आरोपी बिक्रम चौधरी का सहारा लेकर फर्जी तरीके से भर्ती हुए 9 पुलिस कर्मियों पर एफआईआर दर्ज की गई। पालमपुर, धर्मशाला और भवारना थाने में उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया। बिक्रम ने 2012 में एक, 2015 में 2 और 2017 में हुई पुलिस भर्ती लिखित परीक्षा में 6 जवानों को हाईटेक नकल और दूसरे व्यक्ति से पेपर दिलाकर पास करवाया था।  एसपी के आदेशों के बाद तीनों पुलिस थानों में सुशील निवासी लुधियाड़ गांव उपमंडल जवाली, विनोद कुमार निवासी फारियां तहसील जवाली, संदीप सपहिया निवासी सरोला तहसील जवाली, रिक्की चौधरी गांव सियाल तहसील फतेहपुर, संपत गांव सियाल तहसील फतेहपुर, रवि गांव लुधियाड़ तहसील जवाली, मनजीत सिंह गांव लुधियाड़ तहसील जवाली, मुकेश गांव लुधियाड़ तहसील जवाली, अमरजीत गांव फारियां तहसील जवाली पर धोखाधड़ी के आरोप में एफआईआर दर्ज हुई है।

एसएसपी विमुक्त रंजन ने एफआईआर दर्ज करने की पुष्टि की है। इन पुलिस कर्मियों का 2012, 2015 और 2017 में धर्मशाला, भवारना, पालमपुर पुलिस थानों के अंतर्गत आने वाले इलाकों में बने परीक्षा केंद्रों में पेपर पास करवाया गया था। इसलिए इन्हीं थानों में एफआईआर दर्ज की गई है। वर्तमान में यह पुलिस कर्मी अलग-अलग इलाकों में पुलिस विभाग में सेवाएं दे रहे हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।