फेरों से पहले दुल्हन फरार, शादी को छोटी बहन की तैयार
February 26th, 2020 | Post by :- | 191 Views

पंचरुखी – घर में शादी थी। हर तरफ चहल-पहल थी। सभी रिश्तेदार भी पहुंच चुके थे। शाम को बारात आनी थी, लेकिन इससे पहले की दूल्हा बारात लेकर आंगन में पहुंचता, दुल्हन घर से फरार हो गई। दोनों परिवारों की तैयारियां धरी की धरी रह गईं। दोनों परिवार असमंजस में थे। फिर काफी विचार-विमर्श के बाद फैसला हुआ कि बारात तो आएगी, लेकिन शादी फरार हुई लड़की की छोटी बहन से होगी। इसके बाद शादी की तैयारियां फिर से शुरू हो गईं। जी हां, यह कोई कहानी नहीं, बल्कि हकीकत है। यह मामला सामने आया है पालमपुर के नजदीकी क्षेत्र पंचरुखी में। जानकारी के अुनसार क्षेत्र की एक पंचायत में लड़के की शादी थी। लड़के व लड़की पक्ष के लोगों ने विवाह की पूरी तैयारियां थीं। सभी सगे-संबंधी भी पहुंच चुके थे। दोनों परिवारों में रातभर गीत-संगीत का दौरान जारी रहा। हर तरफ खुशियों का माहौल था। मंगलवार को बारात जाने की तैयारियां थीं, लेकिन लड़की शादी के लिए तैयार नहीं थी। इसलिए जब सारा परिवार गहरी नींद में सोया हुआ था, तो लड़की किसी को कुछ बताए बिना पौ फटने से पहले ही घर छोड़ कर चली गई। परिवार में किसी को इसकी कोई खबर नहीं लगी। परिजनों ने उसे सब जगह ढूंढा, लेकिन जब उसका कहीं कुछ पता नहीं चला तो लड़की वालों ने इसकी खबर लड़के के परिवारवालों को दी। ऐसे में जहां लड़की के परिवारवाले शर्मिंदा थे, वहीं लड़के वाले भी असमंजस में थे। शादी की पूरी तैयारियां की गई थीं। वे समझ नहीं पा रहे थे कि घर पहुंचे मेहमानों को क्या बताएं। इसके बाद दोनों परिवारों में काफी विचार-विमर्श के बाद फैसला हुआ कि दुल्हन की छोटी बहन के साथ ही शादी करवा दी जाए। इस निर्णय के बाद दोनों परिवारों ने राहत की सांस ली। आपसी सहमति के बाद दूल्हा लड़की की छोटी बहन से शादी करने के लिए बारात लेकर निकल गया।

पुलिस से कंप्लेंट नहीं

इस संदर्भ में न तो पुलिस में कोई शिकायत दर्ज की गई और न ही पंचायत को बुलाया गया। उधर, क्षेत्र में यह मामला चर्चा का विषय बना रहा। हालांकि दोनों परिवारों ने आपसी सहमति से मामला सुलझा लिया, लेकिन फिर भी लोग दबी जुबान में कहते कि अगर लड़की शादी के लिए तैयार नहीं थी तो समय रहते अभिवावकों को नहीं तो लड़के को ही बता देती। कम से कम दोनों परिवारों को शर्मिंदा तो नहीं होना पड़ता।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।