मोटर मैकेनिक ने ठीक की ऐतिहासिक घड़ी, पिछली बार नप ने खर्च किए थे लाखों
January 18th, 2020 | Post by :- | 248 Views

छोटी काशी मंडी के संकन गार्डन में ऐतिहासिक घंटाघर की घड़ी को मंडी के मोटर मेकेनिक ने ठीक कर दिया। पहले इसे ठीक करने के लिए कोलकाता से इंजीनियर बुलाना पड़ता था। इसके लिए लाखों की राशि चुकानी पड़ती थी। ब्राधीवीर के कार मेकेनिक सनी ने वर्षों से बंद पड़ी इस घड़ी को ठीक कर दिया है। सनी करीब 32 सालों से कार मेकेनिक का कार्य कर रहे हैं। इससे पहले घड़ियों का काम भी कर चुके हैं। वह चाहते थे कि मंडी शहर के ऐतिहासिक घंटाघर को ठीक करने में योगदान दें। उनकी इस ख्वाहिश पर नगर परिषद ने मौका दिया। घड़ी ठीक करने से पहले सनी ने ऐतिहासिक घंटाघर में लगी घड़ी का मेकेनिज्म का अध्ययन किया और काम शुरू किया। उसके बाद घड़ी ठीक की।

सनी ने बताया कि उन्हें घंटाघर को ठीक कर आनंद महसूस हो रहा है। घंटाघर में जो भी छोटी-मोटी कमी रही होगी, उसे भी जल्द दूर कर दिया जाएगा। उन्होंने भविष्य में भी घंटाघर के लिए इसी तरह सेवाएं देने की बात कही है। उधर, ईओ बीआर नेगी ने कहा कि घड़ी दुरुस्त हो गई है। यह घड़ी काफी पुरानी है। इसके बदलने पर भी विचार किया जा रहा है।

मंडी का लैंडमार्क है घंटाघर
ऐतिहासिक घंटाघर मंडी शहर का लैंड मार्क है। इसी से देश-विदेश में मंडी शहर की पहचान होती है। यह घंटाघर मंडी शहर के बीचोंबीच बनी इंदिरा मार्केट में स्थित है। लंबे समय से घड़ियां बंद होने के कारण लोग मायूस थे, लेकिन उनकी मायूसी दूर हो गई है। वर्तमान में इंदिरा मार्केट के बीच में स्थित घंटाघर को पूर्व में संकन गार्डन के नाम से भी जाना जाता था।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।