वन मंत्री ने नवाजे ‘कर्मवीर’
January 26th, 2020 | Post by :- | 210 Views

मंडी, 26 जनवरी: जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान वन, परिवहन, युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री गोविन्द सिंह ठाकुर ने विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य एवं सराहनीय सेवाएं देने वाले कर्मवीरों को सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि कर्मचारी सरकार की रीढ़ हैं और सरकारी योजनाओं का लाभ जमीनी स्तर पर सही तरीके से पहुंचाने में निर्णायक भूमिका निभाते हैं। अपने दायित्व के प्रति समर्पित ऐसे कर्मवीरों के सम्मान से कामकाजी व्यवस्था में एक नई स्फूर्ति आती है।

सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने में सहयोग करने वाले सभी संस्थान और सामाजिक संस्थाएं भी साधुवाद की पात्र हैं।

इन्हें मिला सम्मान

इंस्पैक्टर ललित मोहर को थाना औट के क्षेत्राधिकार में मंडी-कुल्लू राजमार्ग पर भूस्खलन और रूकावट के दौरान शीघ्र सेवाएं प्रदान करने के लिए, सब इंस्पैक्टर पवन कुमार को जघन्य अपराधों के अन्वेषण के कार्य और सहायक सब इंस्पैक्टर बलबीर सिंह, एएसआई विनोद कुमार को अपराधों का पता लगाने एवं अन्वेषण के कार्य में उत्कृष्ट सेवाओं के लिए सम्मानित किया गया।
हैड कांस्टेबल संजीव कुमार और प्रदीप कुमार को मादक पदार्थों की जब्ती के कार्य में उत्कृष्ट सेवाओं के लिए सम्मान दिया गया। वहीं प्रभावी यातायात नियंत्रण व्यवस्था के लिए मंडी शहर व आसपास में बेहतर कार्य के लिए एएसआई केसरी दत्त, गृह रक्षक भूप सिंह व बलवंत कुमार, नेरचौक शहर व उसके आसपास के लिए कांस्टेबल अंजली चौहान को जबकि कांस्टेबल गुलशन को जिला नियंत्रण कक्ष मंडी में त्वरित सेवाएं प्रदान करने के लिए सम्मानित किया गया।
वन सरंक्षण में बेहतर कार्य के लिए पनारसा बीट के फोरेस्ट गार्ड रंगीलू राम व केन्द्रीय नर्सरी कमांद के फोरेस्ट गार्ड सुरेन्द्र कुमार को भी पुरस्कृत किया गया।

ठोस कचरा प्रबंधन के लिए सम्मानित पंचायतें

ठोक कचरा प्रबंधन के लिए बेहतर कार्य करने वाली जिले की 11 पंचायतों को 10-10 हजार रूपए के चैक देकर सम्मानित किया गया। इनमें दसेहड़ा, झीड़ी, कठौण, समौड़, ग्वाली, शाला, रखोह, भडारणू, रंधाडा, तुंगाधार व कपाही पंचायतें शामिल हैं।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के लिए बांटे पुरस्कार

वन मंत्री ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के तहत स्कूलों में बेटियों के लिए बेहतर माहौल निर्मित करने के लिए जिले के 10 स्कूलों को 20-20 हजार की इनाम राशि से सम्मानित किया। इनमें भंगरोटू, द्रंग, कोट तुंगल, बीड तुंगल, बगश्याड़, भड़याडा, गोहर, गोखरा और जंजहैली के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल शामिल हैं।
वहीं स्कूलों में दसवी कक्षा में दाखिल कन्याओं के ग्यारवीं कक्षा में शत प्रतिशत दाखिले पर 8 स्कूलों को 5-5 हजार की इनाम राशि दी गई। इनमें गोहर, बगश्याड़, गोहरा, लड़भड़ोल, साईगलू, बागरा गलू, बीड तुंगल और कोट मोरस के वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल शामिल हैं।

बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान में शिशु लिंग अनुपात संतुलन के लिए बेहतर कार्य करने पर गोहर, मंडी और धर्मपुर के बाल विकास परियोजना अधिकारी क्रमशः सीमा ठाकुर, धनी राम और आर.आर. भारद्वाज को सम्मानित किया गया।

वृत स्तर पर बेटी बचाओ बेटी पढाओ में बेहतर प्रदर्शन के लिए खरसी वृत कीे पर्यवेक्षक चंद्रवती, माधो गलू वृत की कांता देवी और थारजूं वृत की पर्यवेक्षक कांता देवी को पुरस्कार दिया गया।

अभियान में बेहतर सहयोग व कार्य के लिए बल्ह खंड की तरनोह और सदोह, गोहर खंड की कीलिंग और गोपालपुर खंड की चाऔरी पंचायतों को पुरस्कार दिए गए।
बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान में सक्रिय भागीदारी एवं सहयोग के लिए सर्वदेवता सेवा समिति मंडी के प्रधान शिवपाल शर्मा को भी सम्मानित किया गया।
इस मौके अभियान में बढ़चढ़ कर भाग लेने वाली स्कूल प्रबंधन समितियों का भी सम्मान किया गया। इनमें सदर ब्लॉक की रावमापा कैहनवाल, सेरी ब्लॉक के राजकीय केन्द्रीय प्राथमिक स्कूल सांगलवाड़ा और राजकीय उच्च विद्यालय चलौटी शामिल हैं।

सशक्त महिला योजना के तहत मेधावी बच्चियों को इनाम राशि दी गई इनमें आर्यन पब्लिक स्कूल की नेहा, होली ऐंजेल्स मॉडल स्कूल की लीपाक्षी और किंग जार्ज रॉयल पब्लिक स्कूल की ईशा सकलानी शामिल रहीं।

पोषण अभियान के सफल कार्यान्वयन के लिए सराहनीय सहयोग हेतु मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. जीवानन्द चौहान, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दिनेश कुमार और बीएमओ पधर डॉ. अनुराधा शर्मा को सम्मानित किया गया।

महिला एवं बाल विकास विभाग की योजनाओं को प्रभावी तरीके से लागू करने में उत्कृष्ट कार्य करने वाले बाल विकास परियोजना अधिकारी द्रंग संतोष कुमार और बाल विकास परियोजना अधिकारी गोहर सीमा ठाकुर को सम्मानित किया गया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।