वास्तु शास्त्र / ऑफिस में नहीं करवाना चाहिए डार्क कलर, ऑफिस से जुड़े ऐसे ही वास्तु टिप्स
February 16th, 2019 | Post by :- | 536 Views

वास्तु शास्त्र के अनुसार यदि ऑफिस में वास्तु दोष हो तो उसका असर कर्मचारियों के मनो-मस्तिष्क पर तथा उनकी सेहत पर भी पड़ सकता है। यहां तक कि ऑफिस में वास्तु दोष होने से कंपनी को आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। ऑफिस के वास्तु दोषों को नीचे लिखे उपायों से दूर किया जा सकता है-

  • ऑफिस में बॉस का केबिन सबसे पहले नहीं होना चाहिए। प्रवेश द्वार के समीप किसी ऐसे सहायक का कक्ष हो जो आने वालों को जानकारी उपलब्ध करवा सके।
  • दरवाजे की सीध में किसी कर्मचारी को न बैठाएं।
  • ऑफिस में हरे या गहरे रंग का प्रयोग नहीं करना चाहिए। सफेद, क्रीम या पीला जैसे हल्के रंग का उपयोग करना चाहिए।
  • ऑफिस में पानी की व्यवस्था ईशान कोण में करनी चाहिए। ईशान में पानी तब ही शुभ होगा, जब उसका संबंध जमीन से हो। यदि धरातल से ऊंचे स्थान पर पानी रखना हो तो अपनी सुविधानुसार किसी भी स्थान पर रख सकते हैं।
  • कुबेर का वास उत्तर दिशा में माना गया है। इसलिए जहां तक संभव हो कैशियर को उत्तर दिशा में ही बैठाएं।
  • कम्प्यूटर, कंट्रोल पैनल, विद्युत उपकरण आदि कार्यालय के आग्नेय कोण में ही लगाए जाने चाहिए।
  • यदि ऑफिस में वेटिंग रूम बनवाएं तो वायव्य कोण उचित रहेगा। कान्फ्रेंस/मीटिंग हॉल भी वायव्य कोण में शुभ माना गया है।
  • एक टेबल पर एक से अधिक कर्मचारियों को नहीं बैठाना चाहिए। इससे काम प्रभावित होता है।
  • ऑफिस के बड़े अधिकारियों को दक्षिण में व छोड़े अधिकारियों को पश्चिम में बैठाना चाहिए।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।