सांसद किशन कपूर के प्रयासों से घर पहुंचे सैकड़ों किसान
May 16th, 2020 | Post by :- | 285 Views

इंदौरा,16मई, रमन कुमार

सांसद किशन कपूर के प्रयासों से घर पहुंचे सैकड़ों किसान

हिमाचल प्रदेश में गद्दी जनजातियों सहित काफी तादाद में प्रदेश के निवासी अन्य जिलों व अन्य राज्यों से फंसे हुए लोगों की घर वापसी हुई है । जिसका श्रेय चंबा कांगड़ा संसदीय क्षेत्र के सासंद किशन कपूर एवं युवा नेता शुभम कपूर को जाता है।

समाजसेवी रबिन्द्र शर्मा ने बताया कि कुछ दिन पूर्व किशन कपूर जी के ध्यानार्थ यह मामला लाया गया कि भरमौर जनजाति क्षेत्र से कई लोग जिला कांगड़ा में फंसे हुए है जिन्हे अपने सेब और अन्य कृषि संबंधित कार्यों को लेकर वापिस जाना था । उन्हें इस समस्या से लगातार अवगत करवा रहे थे। साथ ही अन्य जिलों एवं राज्य में फंसे हुए प्रदेशवासियों को भी इसी प्रकार की समस्याएं देखने में आ रही थी भरमौर क्षेत्र से कुछ गरीब परिवार जिनके पास अपने घर जाने के ना तो पैसे ओर न ही कोई गाड़ी का साधन था। ओर वह अपनी कृषि संबंधी कार्य के लिए बहुत चिंतित थे जब उनहोंने यह समस्या हमें बताई तो हमारे द्वारा यह सारा मामला माननीय सांसद चम्बा कांगड़ा किशन कपूर को बताई उनहोंने उसी समय उपायुक्त कांगड़ा, एस डी एम इन्दौरा और एसडीएम नुरपूर को इस कार्य शीघ्र करने के लिए कहा और साथ शुभम कपूर को इस कार्य में लगाया और आज उसी के परिणाम स्वरूप आज इन्दौरा तथा नुरपूर के 33 किसान निशुल्क बस सेवा से अपने अपने घर भरमौर क्षेत्र भेजे l यह कार्य माननीय सांसद चम्बा कांगड़ा के प्रयासों से ही सफल हो सका सभी लोग अपने घर वापसी से बहुत खुश थे एवं माननीय किशन कपूर जी का आभार प्रकट कर रहे थे l

अपने घरों को जाने वाले सभी लोगों ने किशन कपूर सांसद चम्बा कांगड़ा , भाजपा युवा नेता शुभम कपूर जी ,नोडल अधिकारी ओंमकार शर्मा उपायुक्त कांगड़ा राकेश प्रजापति, एस डी एम इन्दौरा गोरव महाजन का ह्रदय की गहराइयों आभार प्रकट किया l जिनके प्रयासों से आज भरमौर के गरीब परिवारों को इन्दौरा से कुगती निशुल्क बस से भेजा गया ।

इस सम्बन्ध मे समाज सेवी डैंकवा रबिन्द्र शर्मा ने कहा कि हमें ऐसे ही नेतृत्व की जरूरत है जो समाज और गरीब तबके के लोगों की मदद करते हैं। ताकि गरीब लोगों की और समाज के हर वर्ग के लोगों की विपत्ति के समय में सहायता हो सके।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।