हिमाचल प्रदेश में निजी स्कूलों नें मांगी फीस …
May 14th, 2020 | Post by :- | 198 Views

लॉकडाउन के चलते जहां अधिकतर लोग अपना रोजगार गंवा चुके हैं, ऐसे में अब प्रदेश के निजी स्कूलों नें अभिभावकों से कहा है कि वह अपने बच्चों की फीस जमा करवाएं. स्कूल प्रशासन इसके पीछे वजह बता रहे हैं कि उनको अपने शिक्षकों की सैलरी देनी है, ऐसे में अभिभावक, स्कूल न आ सकते हों, तो ऑनलाइन ही फीस जमा करें.
निजी स्कूलों में बहुत संख्या में, निजी क्षेत्रों में काम करने बाले लोगों के बच्चे पढ़ाई करते हैं, लगभग 95%निजी कंपनियों नें लॉकडाउन के चलते अपने कर्मचारियों की सैलरी रोक रखी है। माना जा रहा है कि अधिकतर कंपनियां लॉकडाउन के समय की सैलरी काट लेंगी, ऐसे में अभिभावकों को भी आर्थिक क्षति होगी, मगर निजी स्कूलों नें, अपनी आर्थिकी दुरूस्त रखने के लिए, ऑनलाइन पढाई के नाम पर अब फीस वसूलना शुरू कर दिया है।
प्रदेश सरकार इस बारे एकमत निर्णय नहीं ले पा रही है। सरकार यह साफ नहीं कर पा रही कि इस दौरान के समय की फीस ,छात्रों को देनी है या नहीं, सिर्फ प्रदेश सरकार नें अपनी तरफ से निर्देश मात्र दिए कि इस दौरान स्कूल, फीस न मांगें, मगर सरकार के इन निर्देशों को अब निजी स्कूल मानने को तैयार नहीं दिख रहे..

दूसरी तरफ बुधवार को राज्य मंत्रिमंडल बैठक में शिक्षा विभाग ने एक्जिट प्लान को लेकर विस्तार से प्रस्तुति दी। मामले पर चर्चा के बाद फैसला लिया गया कि केंद्र सरकार की शिक्षण संस्थानों को खोलने के लिए आने वाली दिनों में जारी होने वाली गाइडलाइन के बाद ही हिमाचल में इसको लेकर अंतिम फैसला होगा। फिलहाल 31 मई तक स्कूल बंद रहेंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।