29 राज्यों में 1 हजार 906 मामले: 24 घंटे में रिकॉर्ड 386 केस; तमिलनाडु में एक ही दिन में 110 पॉजिटिव मिले, राज्य में 234 संक्रमित
April 1st, 2020 | Post by :- | 164 Views

कोरोनावायरस के संक्रमितों की संख्या 1 हजार 906 हो गई है। कोरोना का संक्रमण 29 राज्यों में फैल चुका है। मंगलवार से बुधवार तक 24 घंटे में रिकॉर्ड 386 नए केस सामने आए हैं। अकेले तमिलनाडु में ही 110 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं। आंध्रप्रदेश में 43, महाराष्ट्र में 23 और मध्यप्रदेश में 20 नए केस मिले। आंध्र में संक्रमित मिले लोग दिल्ली के तब्लीगी जमात के मरकज से लौटे थे। वहीं, दिल्ली में निजामुद्दीन के मरकज के बाद अब मजनूं का टीला इलाके में एक गुरुद्वारे से 250 लोगों को निकाला गया। पुलिस इनकी स्वास्थ्य जांच करा रही है। दिल्ली के सरकारी अस्पताल की एक महिला डॉक्टर भी कोरोना पॉजिटिव मिली। यहां मरकज से निकाले गए 536 लोगों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है, जबकि 1810 को क्वारैंटाइन किया गया है। वहीं, केजरीवाल सरकार ने महामारी के दौरान ड्यूटी में लगे सरकारी और निजी कर्मचारियों की मौत होने पर परिजन को 1 करोड़ रुपए की आर्थिक मदद का ऐलान किया है।

इससे पहले मंगलवार को देश में कोरोना संक्रमण के 272 नए मामले सामने आए थे। महाराष्ट्र में मरीजों की संख्या 320 के पार हो गई है, यह देश में सर्वाधिक है। ये आंकड़े covid19india.org वेबसाइट के अनुसार हैं। वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने बुधवार शाम 4 बजे बताया कि पिछले 24 घंटे में 386 मामले सामने आए। अब संक्रमितों की संख्या 1 हजार 637 हो गई है। इनमें से 133 लोग ठीक हुए। कोरोना से अब तक 38 मौतें हुई हैं।

देश में अभी तक 47951 लोगों की जांच हुई: आईसीएमआर

वहीं, संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि पॉजिटव मामले मंगलवार से बढ़ने शुरू हुए। इनका संबंध सीधे तौर पर तब्लीगी जमात में शामिल लोगों से है। जमात से जुड़े 1800 लोगों को 9 अस्पतालों में क्वारैंटाइन किया गया है। इसके अलावा अग्रवाल ने बताया कि स्वास्थ्य उपकरणों का प्रसार करने के लिए लाइफ लाइन उड़ान शुरू की जा रही हैं। इसके जरिए पिछले 5 दिनों में 15.5 टन मेडिकल उपकरणों की सप्लाई हुई। आईसीएमआर ने बताया कि देश में अभी तक 47951 लोगों की जांच हुई। जांच सेंटर्स की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है।

कोरोना के चलते केवल जरूरी विषयों की परीक्षा कराएगा सीबीएसई

कोरोनावायरस के चलते मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रालय ने साफ कर दिया है कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) केवल 29 मुख्य विषयों के लिए ही बोर्ड परीक्षा का आयोजन करेगा। इन विषयों के आधार पर ही छात्रों को यूनिवर्सिटी में एडमिशन मिलता है। बाकी विषयों के लिए बोर्ड परीक्षा नहीं होगी। सीबीएसई छात्रों को परीक्षा की तैयारी के लिए पूरा समय देगा। मूल्यांकन और मार्किंग के लिए भी जल्द ही दिशा निर्देश जारी किए जाएंगे।

प्रधानमंत्री ने गुल्लक के पैसे दान करने वाली बच्ची का वीडियो शेयर किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर उस बच्ची का वीडियो शेयर किया है, जिसने कोरोना आपदा से निपटने के लिए अपने गुल्लक के पैसे प्रधानमंत्री राहत कोष में दान किए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि पीएम केयर में सहयोग करने वाले छोटे बच्चों के संदेश मिल रहे हैं। यह विशेष है क्योंकि वे अपने गुल्लक से मदद कर रहे हैं। हमें एक बार फिर से युवा भारत की दरियादिली देखने को मिल रही है।

जमात में शामिल लोगों का देशभर में पता लगाया जा रहा

दिल्ली में मरकज की जमात में शामिल लोगों कोरोना संदिग्धों क देशभर में ट्रैकिंग जारी है। आंध्र में मरकज से लौटे 4 और लोग कोरोना पॉजिटिव मिले। भोपाल में 82 लोग चिन्हित किए जा चुके हैं। वहीं, रात को 8 लोग उत्तर प्रदेश के बरेली में एक मस्जिद में मिले। वहीं, कर्नाटक के गृहमंत्री बी श्रीमालू ने कहा कि हमें सूचना मिली है कि मलेशिया और इंडोनेशिया के 62 लोग दिल्ली के मरकज से कर्नाटक के अलग-अलग हिस्सों में गए थे। हमने ऐसे 12 लोगों का पता लगाकर उन्हें क्वारैंटाइन किया है।

देश के 29 राज्यों में पहुंचा कोरोना संक्रमण

राज्य कितने संक्रमित कितनी मौत कितने ठीक हुए
महाराष्ट्र 325 12 39
केरल 265 2 24
तमिलनाडु 234 1 6
दिल्ली 123 2 6
राजस्थान 108 2 3
कर्नाटक 105 3 9
उत्तरप्रदेश 116 1 17
तेलंगाना 97 6 14
आंध्रप्रदेश 87 0 1
मध्यप्रदेश 86 7 0
गुजरात 82 6 5
जम्मू-कश्मीर 62 2 1
पंजाब 46 4 1
हरियाणा 43 0 17
प.बंगाल 27 3 0
बिहार 23 1 0
चंडीगढ़ 15 1 0
लद्दाख 13 0 3
अंडमान-निकोबार 10 0 0
छत्तीसगढ़ 9 0 0
उत्तराखंड 7 0 2
गोवा 5 0 0
असम 5 0 0
ओडिशा 4 0 0
हिमाचल 3 1 1
पुडुचेरी 3 0 0
मणिपुर 1 0 0
मिजोरम 1 0 0
झारखंड 1 0 0

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।