गोलाबारी में यूक्रेन के 1 सैनिक की मौत, ऑस्ट्रेलिया ने लगाए रूस पर प्रतिबंध #news4
February 23rd, 2022 | Post by :- | 94 Views
कीव। यूक्रेन की सेना ने कहा है कि रूस समर्थक अलगाववादियों की गोलाबारी में उसका एक और सैनिक मारा गया है।
गार्जियन की रिपोर्ट ने यूक्रेन के संयुक्त बल अभियान का हवाला देते हुए बताया है कि सेना ने कहा है कि पिछले 24 घंटे में अलगाववादियों की गोलाबारी की 96 घटनाएं रिकॉर्ड की गई हैं। 81 घटनाओं में भारी हथियारों का इस्तेमाल किया गया।
रिपोर्ट में कहा गया है कि रूस समर्थित अलगाववादियों ने भारी हथियारों, मोर्टार और ग्रैड रॉकेट सिस्टम का इस्तेमाल किया है।
ऑस्ट्रेलिया ने प्रतिबंधों की घोषणा की : ऑस्ट्रेलिया ने रूस पर अतिरिक्त प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है और कारोबारियों को रूसी साइबर हमले के जरिए जवाबी कार्रवाई के लिए तैयार रहने को लेकर आगाह भी किया है।
प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने बुधवार को कहा कि लक्षित वित्तीय प्रतिबंध और यात्रा पाबंदी यूक्रेन के प्रति रूसी आक्रामकता के जवाब में पहली कार्रवाई होगी।
ऑस्ट्रेलिया और रूस ने 2014 से एक-दूसरे पर प्रतिबंध लगाए हैं। यूक्रेन संघर्ष में रूस की भागीदारी के विरोध में ऑस्ट्रेलिया द्वारा प्रतिबंधों की शुरुआत की गई थी। मॉरिसन की कैबिनेट में राष्ट्रीय सुरक्षा समिति ने प्रतिबंधों और यात्रा बंदिशों को मंजूरी दी जो रूसी सुरक्षा परिषद के 8 सदस्यों को लक्षित करते हैं।
…तो हमारे पास परमाणु हथियार होते : यूक्रेन के विदेश मंत्री डिमिट्रो कुलेबा ने कहा कि यदि अमेरिका और रूस मिलकर दबाव नहीं बनाते तो यूक्रेन के परमाणु हथियारों के लिए बेहतर रास्ता ढूंढा जा सकता था।
कुलेबा से फॉक्स न्यूज के एक साक्षात्कार के दौरान पूछा गया कि क्या यूक्रेन के लिए अपने परमाणु हथियार छोड़ने का कदम गलत था, जिसके जवाब में उन्होंने कहा कि यदि अमेरिका ने रूस के साथ मिलकर यूक्रेन को उसके परमाणु हथियारों से वंचित करने की स्थिति नहीं अपनाई होती तो एक बेहतर निर्णय पर विचार किया जा सकता था।
यूक्रेन 1994 में अपने क्षेत्र से परमाणु हथियारों को खत्म करने और परमाणु हथियार अप्रसार संधि में शामिल होने के लिए सहमत हुआ था।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।