विंड चाइम कहां और कैसे लगाएं, जानिए 10 फायदे #news4
January 18th, 2022 | Post by :- | 123 Views

विंड चाइम के एक अलग स्वरूप का भारत में प्राचीन काल से ही उपयोग होता आया है। दरअसल, यह बौद्ध संस्कृति की देने है। चायनीज ज्योतिष फेंगशुई में विंड चाइम का बहुत महत्व है। आओ जानते हैं इसके 10 खास चमत्कारिक फायदे।

क्या होती है विंड चाइम : छोटी-छोटी घंटियों के बंच को विंड चाइम कहते हैं। यह कई प्रकार की घंटियों से बनती है। इसीलिए यह कई तरह की वैरायटी में मिलती है। जैसे गोल स्तूप जैसी घंटी, हिन्दू मंदिरों की घंटियों जैसी घंटी या पतली नली वाली। भारी, हल्की, बड़ी, छोटी और रंगीन कई तरह की घंटियां बाजार में मिलती है जिन्हें पवन घंटी भी कहते हैं। इसके आलावा मेटल, क्रिस्‍टल, बांस, लकड़ी और फाइबर के विंड चाइम देखने को मिलते हैं। साथ ही मिट्टी के विंड चाइम भी मौजूद हैं। इनमें बांस और मिट्टी के विंड चाइम की विशिष्‍ट आवाज के कारण आजकल ये बहुतायत प्रयोग किए जा रहे हैं।
कहां लगाएं :
1. इसे घर के मुख्य दरवाजे, मध्य के दरवाजे या खिड़कियों में लटकाते हैं।
2. फूलों और पक्षियों के साथ भी इनका मधुर रिश्‍ता है। इस कारण लोग बकायदा इसे अपने छोटे से गार्डन और लॉन में छोटे पेड़-पौधों के साथ लगा देते हैं।
3. टैरेस, दरवाजे, गार्डन या फिर लॉन में पेड़-पौधों में लगाकर प्रकृति के मधुर संगीत का मजा ले सकते हैं।

4. हर तरह की विंड चाइम लगाने की दिशा और स्थान अलग अलग होते हैं। जैसे धातु से बनी विंड चाइम हमेशा पश्चिम या उत्तर-पश्चिम दिशा में लगाएं, क्योंकि इन दिशाओं में यह भाग्योदय कराती हैं।

5. पवन घंटी हमेशा सकारात्मकता ही पैदा करती हैं, आप चाहें तो इसे साज-सज्जा के रूप में लिविंग रूम में भी लगा सकते हैं।
6. कांच की बन पवन घंटियां भी घर की शोभा बढ़ा सकती है, लेकिन यह अगर भारी हुई तो मधुर आवाज पैदा नहीं करेंगी।
विंड चाइम लगाने के 10 फायदे :
1. इससे घर के अंदर हमेशा सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बना रहता है।
2. घर में खुशियों का माहौल बना रहता है और रिश्तों में सुधार होता है। इसकी मधुर आवाज माहौल को खुशनुमा बनाए रखती है।
3. इससे घर में सुख, शांति और संपन्नता आती है।
4. इससे वास्तु दोष मिटता है और भाग्योदय होता है। अगर आप अपना सोया हुआ भाग्य जगाना चाहते हैं तो 6 या 8 रॉड वाली पवन घंटी लाकर घर में लगाएं।
5. इससे घर की सुंदरता बढ़ती है।
6. लकड़ी की बनी पवनघंटी प्राकृतिक दिखने के साथ ही घर-गृहस्थी के मामले में शुभ मानी जाती है। इसे दक्षिण-पूर्व दिशा में लगाना हमेशा शुभ होता है।
7. नाम और पैसे की चाहत हो, तो घर के उत्तर-पश्चिम में पीले रंग की 6 रॉड वाली पवन घंटी लगाएं।
8. इसी प्रकार 2 या 9 घंटि‍यों वाली सेरेमिक की बनी पवन घंटी आपको मान-प्रतिष्ठा और यश प्रदान करती है। इसे घर में दक्ष‍िण-पश्चिम दिशा में लगाना शुभ होता है।

9. अगर अपना सामाजिक दायरा बढ़ाना चाहते हैं, तो सिल्वर रंग की 7 रॉड लगी पवन घंटी को घर की पश्चिम दिशा में लगा सकते हैं।
10. अलग-अलग रंगों वाली रंगबिरंगी पवनघंटी माहौल को खुशनुमा बनाए रखती है और जीवन में खुशियां भर देती हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।