11वीं की छात्रा ने बनया स्मार्ट डस्टबिन, ऐप से भी जोड़ा
March 7th, 2020 | Post by :- | 151 Views

11वीं कक्षा की छात्रा अंचला ठाकुर ने स्मार्ट डस्टबिन का निर्माण किया है. इस डस्टबीन की खासियत यह है कि जब भी व्यक्ति कूड़ा लेकर इसके पास जाएगा तो इसमें लगा सेंसर व्यक्ति के आने की आहट पहचान जाएगा और डस्टबीन का ढक्कन खुद ब खुद खुल जाएगा. डस्टबिन जब पूरी तरह से भर जाएगा तब इसका ढक्कन नहीं खुलेगा. इसे मोबाइल के साथ भी जोड़ा गया है ताकि नगर निकाय तक इसकी जानकारी पहुंच सके और इसे सही समय पर खाली किया जा सके. अंचला ठाकुर बताती है कि अटल टिंकरिंग लैब के कारण उन्हें यह प्रयास करने का मौका मिला. इन्होंने देश के प्रधानामंत्री का अटल टिंकरिंग लैब शुरू करने के लिए धन्यवाद किया है.

अटल टिंकरिंग लैब के प्रभारी संदीप वर्मा बताते हैं कि अटल टिंकरिंग लैब के स्थापित होने से बच्चों को अपने भीतर छुपी प्रतिभाओं को उजागर करने का पूरा मौका मिल रहा है. छात्राओं ने स्मार्ट मेडिसिन और डस्टबीन के अलावा स्मार्ट वॉटर पंपिंग सिस्टम और स्मार्ट ईरिगेशन सिस्टम के मॉडल भी तैयार किए हैं.

स्कूल प्रधानाचार्य कल्याण सिंह ठाकुर ने बताया कि स्कूल में अटल टिंकरिंग लैब स्थापित होने के बाद से इसके सार्थक परिणाम सामने आए हैं. स्कूल को राष्ट्रीय स्तर पर नई पहचान मिली है. बच्चे स्कूल में नए-नए आविष्कार कर रहे हैं और इसका सीधा लाभ समाज को हो रहा है. उन्होंने स्कूल में इस लैब को स्थापित करने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों का आभार जताया है. उन्होंने बताया कि स्कूल टाईम के बाद अटल टिंकरिंग लैब का कार्य शुरू होता है, जिसमें बच्चे बड़ी दिलचस्पी के साथ भाग लेते हैं.

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।