अधिकारियों पर प्रताड़ित करने का आरोप लगा महिला कांस्टेबल ने की आत्महत्या
March 22nd, 2019 | Post by :- | 101 Views

सांचौर थाने में तैनात एक महिला कांस्टेबल ने गुरुवार को अपने सरकारी आवास पर फंदा लगाकर जान दे दी। कमरे से बरामद सुसाइड नोट में उसने थानाधिकारी व एक महिला कांस्टेबल पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। उसके परिजनों ने दोषी पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग को लेकर शव उठाने से इनकार कर दिया।

बाड़मेर जिले के धोरीमन्ना के चैनपुरा निवासी गीता विश्नोई सांचौर पुलिस थाने में कांस्टेबल के पद पर कार्यरत थी। गुरुवार को उसके कमरे से बाहर नहीं आने पर साथी महिला कांस्टेबल ने अन्य लोगों को सूचित किया। बाद में उसके अंदर प्रवेस करने पर पंखे से हुक से गीता का शव लटकते हुए मिला। गीता एक सुसाइड नोट भी छोड़ कर गई। इस सुसाइड नोट में गीता ने अपने थानाधिकारी पुष्पेन्द्र वर्मा व एक महिला कांस्टेबल केलम पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। साथ ही उसने अपने माता-पिता, भाई-बहन व दोस्तों से माफी भी मांगी है।

बाद में पुलिस ने शव मोर्चरी में रखवा परिजनों को बुलाया। सांचौर पहुंचे मृतका के भाई ने थानाधिकारी व महिला कांस्टेबल सहित एक अन्य अधिकारी पर अपनी बहन को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि तीनों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए। इसके बाद ही वे शव उठाएंगे। पुलिस अधीक्षक केसर सिंह भी मौके पर पहुंचे और गीता के परिजनों से समझाइश कर रहे है। बताया जा रहा है कि विभागीय अधिकारियों की तरफ से प्रताड़ित किए जाने से परेशान हो गीता ने कुछ दिन पूर्व जिला पुलिस अधीक्षक के समक्ष उपस्थित होकर अपनी पीड़ा बताई थी। उसने थाना बदलने के लिए आवेदन भी कर रखा था। आत्महत्या करने से पहले गीता आठ घंटे तक ड्यूटी देकर आई थी, लेकिन इसके बावजूद उसकी अनुपस्थिति लगा दी गई। इसके बाद वह ज्यादा परेशान हो गई।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।