शहीद सैनिकों के परिजन सम्मानित
March 23rd, 2019 | Post by :- | 57 Views

शनिवार को कृष्णा रामलीला क्लब डाह कुलाड़ा के सौजन्य से शहीदों के गाँव डाह कुलाड़ा में शहीद सम्मान समारोह कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उल्लेखनीय है कि प्रथम विश्व युद्ध, द्वितीय विश्व युद्ध, 1965 व 1971 भारत – पाक युद्ध, ऑपरेशन ब्लू स्टार 1984 व ऑपरेशन विजय करगिल के दौरान अकेले डाह कुलाड़ा से 16 वीर जवान शहादत का जाम पी चुके हैं। जबकि 5 स्वतंत्रता सेनानी इस गाँव से हैं। कार्यक्रम मेजर वासुदेव गुलेरिया व कर्नल रवि पठानिया की संयुक्त अध्यक्षता में आयोजित किया गया। जिसमें पुलवामा हमले में शहीद हुए तिलक राज के पिता लायक राम बतौर मुख्यातिथि सम्मिलित हुए। कार्यक्रम की शुरुआत शहीद – ए – आजम भगत सिंह, राजगुरु व सुखदेव सहित डाह कुलाड़ा गांव के शहीद हुए वीर सैनिकों की प्रतिमाओं को माल्यार्पण कर किया गया। उसके बाद राष्ट्रीय गीत के बाद शहीदों के सम्मान में दो मिनट का मौन रखा गया। कृष्णा रामलीला क्लब के अध्यक्ष राज सिंह गुलेरिया ने कार्यक्रम में उपस्थित होने पर सभी गणमान्यों का स्वागत किया। कार्यक्रम में डाह कुलाड़ा गांव के प्रथम विश्व युद्ध से अब तक शहीद हुए 16 शहीदों के परिवारों को सम्मानित किया गया।

इन शहीदों के परिवार हुए सम्मानित

कार्यक्रम में प्रथम विश्व युद्ध में शहीद हुए डाह कुलाड़ा गांव के सावन सिंह गुलेरिया, घसीटा सिंह, फिरंगु सिंह, सिपाही ज्ञान सिंह, सिपाही वीर सिंह, जबकि द्वितीय विश्व युद्ध में शहीद हुए डाह कुलाड़ा गांव के हवलदार मेहर सिंह, सिपाही कमल सिंह, सिपाही साधु राम के पारिवारिक सदस्यों को सम्मानित किया गया। इसके बाद 1965 व 1971 के युद्धों में शहीद हुए उक्त गांव के वीर शहीद विजय सिंह, बलदेव जरियाल, प्रकाश सिंह बलखोड़, कैप्टन दलगीर सिंह और ऑपरेशन ब्लू स्टार में शहीद हुए नायक हंस राज, कारगिल युद्ध में शहीद हुए सुनीत सिंह के परिवारिक सदस्यों को स्थानीय स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया। वहीं आजाद हिंद फौज के स्वतंत्रता सेनानी डाह कुलाड़ा के ओंकार सिंह, बीरू राम, ज्ञानू राम, स्वतंत्रता सेनानी भीम सिंह, रणवीर सिंह, दूसरे विश्व युद्ध के स्वतंत्रता सेनानी सिपाही लायक सिंह जिन्होंने राष्ट्र की रक्षा के लिए अपनी एक टांग व एक बाजू को शहीद कर दिया था व पुलवामा शहीद तिलक राज के पारिवारिक सदस्यों को भी सम्मानित किया गया।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।