मालिश से बंद पड़ी नसों को खोल देती है कुनिहार की जयदई
March 24th, 2019 | Post by :- | 374 Views

समाज में बहुत सारे लोग होते हैं जो दूसरों के लिए जीते हैं ऐसे ही एक शख्सियत जयदई जोकि कुनिहार के साथ लगती जाडली पंचायत की निवासी है 60 वर्षीय जयदई पिछले 25 वर्षों से दाई का काम कर रही है और लगभग 15 वर्षों से अपने हुनर द्वारा कई मरीजों को मालिश से ठीक कर चुकी है। गौर रहे की नसों संबंधित बीमारी के लिए तो जयदई अर्की क्षेत्र में जानी जाती है।

जी हां अगर किसी के हाथ, पैर, बाजू व टांगे सुन होकर अकड़ जाती है या किसी दुर्घटना में चोट के कारण शरीर का कोई हिस्सा सुन होने पर वह मालिश विधि द्वारा इलाज करती है। जो मेडिकल साइंस में भी कई बार विफल हो जाता है ऐसे बहुत सारे उदाहरण हैं जो मरीज खुद अपनी जुबानी बताते हैं जयदई को शरीर के अंगों के टुट – फुट जाने मांसपेशियों में खिंचाव आ जाने से असहनीय दर्द भी को भी ठीक करने महारत हासिल है। यही नहीं जयदई काफ़ी सालो से किसी के बच्चा ना हो रहा हो उस के लिए भी आयुर्वेदिक दवाई खुद तैयार करती है।

कुनिहार के साथ लगते चचेड गांव कि रामदेई का घुटना मुड़ गया था कई जगहों से स्वास्थ्य लाभ लेने के बावजूद ठीक नहीं हो पा रही थी उनके पास एक मात्र विकल्प PGI चंडीगढ़ ही बचा था उनको किसी ने जयदई के पास एक बार दिखाने की सलाह दी। कुनिहार के नजदीक जाडली गांव में जयदई के पास ले जाने के बाद उन्होंने उनके मुडे घुटनों की बारिकी से मालिश की। जयदेई ने बताया कि घुटना मुड जाने के कारण नशे काम नहीं कर रही थी जिस कारण से नसे ठंडी और कमजोर पड़ गई थी। करीब 1 हफ्ते के बाद अब रामदेई ने अपने बल पर आसानी से चलने फिरने लगी है।

जयदई की मानें तो बहुत बार नसों की बीमारी एक्स-रे में भी नहीं आती है कई बार ऐसे मरीज IGMC शिमला व PGI चंडीगढ़ से भी वापस आकर मेरे पास ठीक हुए हैं। बिल्कुल साधारण दिखने वाली जयदई में असाधारण अलौकिक गुण हैं जिनके कारण वह लोगों की सेवा करती है प्रचार प्रसार से कोसों दूर इस शख्सियत के पास न जाने कहां कहां से ऐसे मरीज रोज आ जाते हैं। जिनकी वह बिना किसी भेदभाव के सेवा करती है।

कुनिहार के नजदीक गांव आईथी की रहने वाली गीता देवी के हाथ फैक्चर हुआ जिनका इलाज चंडीगढ़ में चल रहा था हाथ का प्लास्टर उतरने के बाद उनके हाथ ने काम करना बंद कर दिया था जयदई का पता लगने के बाद वह तुरंत उनके पास गए वह अपना इलाज करवाया। गीता देवी का कहना है कि जयदेई के हाथों में कुछ ऐसा जादू है दर्द उनके छुने से ही गायब हो जाती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।