हार्ट अटैक से दो जवानों की मौत
March 27th, 2019 | Post by :- | 113 Views

जिला हमीरपुर में दो फौजियों की हार्ट अटैक से मौत हो गई। पहला मामला  जिला हमीरपुर के तहत गांव सेर में पेश आया है। हादसे के बाद क्षेत्र में शोक की लहर है। जानकारी के अनुसार जिला हमीरपुर के सेर गांव से छुट्टी पर घर आए सीआईएसएफ  के जवान रमेश चंद की सोमवार शाम पांच बजे हृदय गति रुकने से मौत हो गई। मौत का पता चलते ही परिवार के सदस्यों के पैरों तले जमीन खिसक गई। परिजनों के विलाप से पूरा इलाका शोक में डूब गया। रमेश चंद जिला चंबा की चमेरा परियोजना में बतौर एएसआई कार्यरत थे। मृतक अपने पीछे मां, पत्नी व दो बेटे छोड़ गया है। बेटे चंद्रकांत ने पिता की चिता को मुखाग्नि दी। डिप्टी कमांडेंट सीआईएसएफ यूनिट एनएफएल नंगल से आए जवानों ने रमेश चंद को गार्ड ऑफ ऑनर दिया।

नंगल से आए जवानों में हैड कांस्टेबल राकेश पुरी, मोहिंद्र पाल, पुरषोत्तम चंद, रंजीत सिंह आदि शामिल थे। जिला हमीरपुर प्रशासन की तरफ  से तहसीलदार, आफिस कानूनगो और पटवारी उपस्थित रहे। एक अन्य मामले में उपमंडल भोरंज के गांव घुमारवीं में 23 वर्षीय नेवी के सैनिक की हार्ट अटैक से मौत हो गई। नौजवान की अचानक मौत होने से क्षेत्र में मातम का माहौल छा गया। पुलिस से मिली जानकारी अनुसार भोरंज के  घुमारवीं  का विवेक शर्मा पुत्र सुरेश शर्मा, जो क नेवी में विशाखापट्टनम में तैनात था। कुछ दिन पहले ही 10 दिन की छुट्टी घर आया हुआ था। रात को खाना खाकर अपने कमरे में सोया हुआ था। जब घर वालों ने सुबह चाय देने के लिए दरवाजा खुलवाना चाहा, तो अंदर से कोई आवाज नहीं आई व दरवाजा बंद था। घरवालों ने दरवाजा तोड़कर देखा, तो युवक मृत पड़ा हुआ था। प्रथम दृष्टया मौत हार्ट अटैक से मानी जा रही है। भोरंज पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। पोस्टमार्टम हमीरपुर अस्पताल में करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है। इस बारे में एसएचओ भोरंज कुलवंत सिंह ने बताया कि प्रथम दृष्टया युवक की मौत हार्ट अटैक के कारण लग रही है। पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों का पता चल पाएगा। आगे की छानबीन जारी है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।