कुहमंझवाड़ में कुदरत का कहर, गऊशाला ढहने से 16 बकरियां, 2 भैंसें व एक बछड़ा मलबे में दबे #news4
July 24th, 2022 | Post by :- | 116 Views

बिलासपुर : सदर विधानसभा क्षेत्र के तहत आने वाली ग्राम पंचायत कुहमंझवाड़ के धाड़त गांव में गत रात हुई बारिश ने कहर बरपाया है। गत रात हुई बारिश से गांव में हुए भूस्खलन के कारण संजय कुमार पुत्र सोहन सिंह की गऊशाला के 4 कमरे क्षतिग्रस्त हो गए हैं, जिस कारण गऊशाला में बंधीं 16 बकरियां, 2 दुधारू भैंसें और एक बछड़ा दब गया। इस घटना का पता संजय कुमार को रविवार सुबह उठने पर चला। सूचना मिलते ही ग्रामीण मौके पर पहुंचे तथा 4 बकरियों को मलबे से बाहर निकाला। इस घटना की सूचना मिलने पर एसडीएम घुमारवीं व नायब तसीलदार हरलोग भी मौके पर पहुंचे तथा घटना का जायजा लिया। मौके पर पुलिस भी पहुंच गई है। प्रशासन ने संजय कुमार को फौरी राहत के रूप में 30000 रुपए प्रदान किए। हलका पटवारी द्वारा नुक्सान की रिपोर्ट तैयार की गई है, जिसमें प्रभावित को करीब 10 लाख रुपए के नुक्सान का आकलन किया गया है।

जानकारी के अनुसार बारिश से सड़क भी बंद हो गई है, जिस कारण सदर विधायक सुभाष ठाकुर मौके पर देरी से पहुंचे। सदर विधायक सुभाष ठाकुर ने प्रभावित परिवार के लोगों से मुलाकात की तथा प्राकृतिक आपदा पर गहरा दुख प्रकट किया। उन्होंने प्रभावित परिवार को सरकार की तरफ से हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया। गौरतलब है कि बंद पड़ी सड़क को खोलने के लिए सदर विधायक द्वारा दिए गए आदेश के बाद लोक निर्माण विभाग ने जेसीबी को मौके पर भेजा, तब जाकर सड़क खुली। बताते चलें कि इसी पंचायत के भगौट में गत 7 जुलाई को भी भारी बारिश से बादल फट गया था, जिससे इस गांव के 3 लोगों की गऊशालाएं ढह गई थीं।

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।