बर्फ लगने से युवक के पैर खराब, स्लेज से 14 किमी बर्फ पर खींचकर पहुंचाया अस्पताल
March 30th, 2019 | Post by :- | 108 Views

हिमाचल का जनजातीय जिला लाहौल-स्पीति बर्फ के कारण अभी भी देश दुनिया से कटा है। 13050 फीट ऊंचे रोहतांग दर्रे पर अभी भी 20 फीट बर्फ होने के कारण लाहौल में फंसे लोग जान जोखिम में डालकर मनाली पहुंचने के लिए पैदल रोहतांग दर्रा लांघने की कोशिश कर रहे हैं।

29 मार्च को उदयपुर के जाहलमा में ढाबा चलाने वाले कुल्लू के मोहल के टेक चंद (31) पैदल मनाली के लिए निकल पड़े। बर्फ में करीब 12 किमी चलने के बाद केलांग से 13 किमी आगे दालंग स्थित सेना के ट्रांजिट कैंप के पास शून्य डिग्री तापमान में पूरी रात बर्फ में फंसे रहे।

ठंड के कारण उनके दोनों पैर फ्रॉस्टबाइट की चपेट में आ गए। अगली सुबह तिनन एड्वेंचर स्पोर्ट्स क्लब के सदस्यों को पता चला तो उन्होंने टेक चंद को 14 किमी बर्फ के ऊपर स्लेज से खींचकर केलांग अस्पताल पहुंचाया।

क्लब के सदस्य सूरज ठाकुर, रोशन, सुरेंद्र, सुनील और खुशाल ने बताया कि उन्होंने आपदा प्रबंधन केलांग को पुलिस रेडियो मैसेज से संदेश भेजा था, लेकिन रेस्क्यू टीम घंटों देरी से पहुंची। फिलहाल टेक चंद का केलांग अस्पताल में उपचार चल रहा है।

इलाज कर रहे डॉक्टर तारा चंद ने बताया कि ठंड के कारण दोनों पैर फ्रॉस्टबाइट की चपेट में आ गए हैं। शरीर के बाकी हिस्सों में इन्फेक्शन न फैले, इसलिए उनका एक पैर काटना पड़ेगा। उपायुक्त अश्वनी चौधरी ने बताया कि टेक चंद को सोमवार हेलीकॉप्टर से कुल्लू पहुंचाया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।