जेल वार्डर की लिखित परीक्षा इस दिन, डाउनलोड करें एडमिट कार्ड
April 8th, 2019 | Post by :- | 136 Views

आचार संहित के बीच हिमाचल प्रदेश में भरे जाने वाले महिला-पुरुष जेल वार्डरों के 146 पदों के लिए लिखित 21 अप्रैल को होगी। किन्नौर और लाहौल-स्पीति जिलों को छोड़कर अन्य सभी जिला मुख्यालयों में लिखित परीक्षा होगी। किन्नौर से संबंधित अभ्यर्थियों की परीक्षा शिमला, जबकि लाहौल-स्पीति से संबंधित अभ्यर्थियों को परीक्षा के लिए कुल्लू आना होगा।

अन्य जिलों में लिखित परीक्षा के लिए सेंटर स्थापित किए जाएंगे। फरवरी और मार्च में फिटनेस टेस्ट पास कर लिखित परीक्षा में प्रवेश पाने वाले अभ्यर्थी 10 अप्रैल के बाद अपना एडमिट कार्ड विभाग की वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं।

यह वेबसाइट 10 से 20 अप्रैल तक खुली रहेगी। विभाग की ओर से अभ्यर्थियों के फोन नंबर और ई-मेल आईडी पर भी उन्हें एडमिट कार्ड डाउनलोड करने की सूचना दी जाएगी। एडमिट कार्ड में परीक्षार्थियों के लिखित परीक्षा के स्थान और समय की जानकारी होगी।

जेल विभाग में पुरुष वार्डरों के 132 और महिला वार्डरों के 14 पदों के लिए 20 से 27 फरवरी तक कांगड़ा रेंज के अभ्यर्थियों का फिटनेस टेस्ट हुआ था। 5 से लेकर 11 मार्च तक मंडी रेंज और 14 से 18 मार्च तक शिमला रेंज के अभ्यर्थियों के लिए ग्राउंड टेस्ट लिया गया था। इस दौरान फिटनेस टेस्ट में उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को विभाग लिखित परीक्षा के लिए आमंत्रित करेगा।

किस जिला में कितने पदों पर मांगे थे आवेदन

कारागारों एवं सुधार केंद्रों में भरे जाने वाले पुरुषों के 132 पदों में बिलासपुर से 7, चंबा 8, हमीरपुर 7, कांगड़ा 33, किन्नौर एक, कुल्लू 7, लाहौल-स्पीति एक, मंडी 20, शिमला 16, सिरमौर 11, सोलन 11 और ऊना जिले से 9 पदों के लिए आवेदन मांगे थे।

महिला वार्डर के 14 पदों के लिए चंबा, हमीरपुर, मंडी, शिमला, सिरमौर, सोलन और ऊना जिले के लिए एक-एक पद भरा जाएगा। कांगड़ा जिले में 7 पदों के लिए आवेदन मांगे गए थे।

जेल वार्डरों की लिखित परीक्षा 21 अप्रैल को होगी। इसके लिए 10 अप्रैल के बाद अभ्यर्थी अपने एडमिट कार्ड वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं। – सोमेश गोयल, महानिदेशक, जेल और सुधार सेवाएं 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।