पुलवामा अटैक : पंजाब के चार सपूतों ने दी शहादत
February 15th, 2019 | Post by :- | 297 Views

पुलवामा में पंजाब के चार सपूत जवान शहीद हो गए। आतंकियों के हमले में रूपनगर के नूरपुरबेदी ब्लाक के गांव रौली का सिपाही कुलविंदर सिंह, तरनतारन के गांव गंडीविंड धत्तल का सुखजिंदर सिंह और मोगा जिले के कस्बा कोट ईसे खां के जयमल सिंह शहीद हो गए। गुरदासपुर के दीनानगर के क्षेत्र आरिया नगर के 27 साल के जवान मनिंदर सिंह भी शहीद हो गए। इन जवानों की शहादत से पूरे प्रदेश में शोक है। लोगों में पाकिस्‍तान के प्रति गुस्‍सा है। पंजाब विधानसभा में भी इस आतंकी वारदात पर गुस्‍सा जताया गया। विधानसभा की कार्यवाही शहीद हुए जवानों के शोक में स्‍थगित कर दी गई

पुलवामा में तरनतारन के गांव गंडीविंड धत्‍तल के सुखबिंदर सिंह ने सुबह भाई से फोन पर बता की और थोड़ी देर में आतंकी हमले में उनके शहीद हाेने की खबर आई। इसे पूरे क्षेत्र में मातम पसर गया। शहीद के माता-पिता और अन्‍य परिजनों का बुरा हाल हो गया। सुखजिंदर का महज आठ माह को बेटा है

इसी तरह रूपनगर जिले के नूरपुरबेदी ब्लाक के गांव रौली का जवान कुलविंदर सिंह भी पुलवामा में हुए आतंकियों के आत्मघाती हमले में शहीद हो गए। इससे गांव सहित पूरे क्षेत्र में मातम छा गया। शहीद के परिजनों का तो बुरा हाल है। परिवार को ढांढ़स बंधाने के लिए भारी संख्‍या में लोेग उनके घर पहुंचे हैं

मोगा जिले के कस्बा कोट ईसे खां के जयमल सिंह भी इस आतंकी वारदात में शहीद हो गए। बताया जाता है कि आत्‍मघाती आतंकी ने सीआरपीएफ की जिस बस को उड़ाया जयमल सिंह उसके चालक थे। पति की शहादत की खबर से जयमल सिंह की पत्‍नी का बुरा हाल है। जयमल सिंह के भाई नसीब सिंह मलेशिया में हैं। घटना की सूचना मिलने के बाद वह मलेशिया में से मोगा के लिए निकल गए हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।