मरकज में ऊना से गए थे 21 लोग
April 3rd, 2020 | Post by :- | 204 Views

दिल्ली के निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात की मरकज में ऊना जिले से 21 लोग गए थे। ये 21 मार्च को वापस हिमाचल आए। तब लॉकडाउन नहीं था न ही प्रदेश में वापसी कोई पाबंदी थी। लेकिन इन्होंने कई बातें छिपाई और जिला प्रशासन व पुलिस को सही सूचना नहीं दी। इसके आरोप में पुलिस ने अंब में दो अलग-अलग एफआइआर दर्ज की है। दिल्ली से लौटे ऐसे व्यक्तियों के खिलाफ अब तक ऊना, बद्दी, शिमला, कांगड़ा, बिलासपुर और ऊना छह एफआइआर दर्ज की गई हैं।

शिमला में शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) एसआर मरडी ने बताया कि दिल्ली से लौटे तब्लीगी जमात से जुड़े 14 और लोगों की पहचान की गई है। अब इनकी संख्या 204 हो गई है। इन्हें अलग-अलग जगह पर क्वारंटाइन पर रखा गया है। छह मामले आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत दर्ज किए गए हैं। अन्य राज्यों से आने पर किसी प्रकार की सूचना नहीं छुपाएं अन्यथा पुलिस केस दर्ज करेगी।

घरों में पढ़ी नमाज

प्रदेश में शुक्रवार को मस्जिदों में नमाज अदा नहीं हुई। इसे मुस्लिम समुदाय के लोगों ने घरों पर ही अदा किया। पुलिस प्रमुख ने इसके लिए इन लोगों का आभार जताया।

कोरोना योद्धाओं से दु‌र्व्यवहार सहन नहीं

डीजीपी ने कहा कोरोना के योद्धाओं डॉक्टरों, नर्सो, पैरामेडिकल स्टाफ और पुलिसकर्मियों के साथ किसी प्रकार का दु‌र्व्यवहार नहीं करें। इसे बर्दाश्त किया जाएगा और उल्लंघन करने वालों के खिलाफ केस दर्ज होगा।

घर पर नशा छुड़वाएं स्वजन

डीजीपी ने स्वजनों से अपील की है कि इस वक्त किसी में भी ड्रग्स के लक्षण पाए गए तो घर पर ही उसे छुड़वाने के प्रयास करें। उन्होंने आयुष मंत्रालय की एडवाइजरी पर अमल करने की सलाह दी।

 

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।