हवाई अड्डा बनने से उजड़ेंगे 2500 किसान परिवार, बल्ह बचाओ संघर्ष समिति ने किया विरोध प्रदर्शन #news4
November 26th, 2021 | Post by :- | 117 Views

मंडी : बल्ह एयरपोर्ट रद्द करो के नारों से मंडी की सेरी चानणी शुक्रवार को उस समय गूंज उठी जब बल्ह बचाओ संघर्ष समिति व किसान संगठनों ने विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी नारे लगाकर केंद्र व प्रदेश सरकार से मांग कर रहे थे कि प्रस्तावित हवाई अड्डे को बल्ह की बजाय गैर उपजाऊ भूमि पर बनाया जाए, ताकि किसानों को उजड़ने से बचाया जा सके। दोपहर बाद किसानों संगठनों ने उपायुक्त मंडी अरिंदम चौधरी के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को एक ज्ञापन भी प्रेषित किया। बल्ह बचायो किसान संघर्ष समिति के अध्यक्ष जोगिंदर वालिया ने कहा कि मुख्यमंत्री पिछले चार सालों से किसानों से बात तक नहीं कर रहे हैं और हम बार-बार मांग कर रहे हैं कि हवाई अड्डा गैर उपजाऊ जमीन में बनाया जाए।

बल्ह में अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाए जाने से यहां 2500 स्थानीय परिवार प्रभावित हो रहे हैं, जिनकी आबादी लगभग 12000 से अधिक है। हवाई अड्डे की वजह से किसान भूमिहीन व विस्थापित हो जाएंगे और मिनी पंजाब बल्ह क्षेत्र का नामोनिशान ही मिट जाएगा। संघर्ष समिति के सचिव नंदलाल वर्मा ने कहा कि बल्ह जमीन बहुत ही उपजाऊ है और साल में 400 करोड़ रुपए आमदनी टमाटर की खेती से ही होती है, इसके उजडने से प्रदेश में 400 करोड़ रुपए का घाटा पड़ेगा, जिसका असर प्रदेश की अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि सरकार इस फैसले पर पुनर्विचार नहीं करती है, तो भविष्य में इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।