खनन माफिया हुआ बेलगाम, विभाग को नही खबर
May 16th, 2019 | Post by :- | 145 Views

एक तरफ जहां सरकार, पुलिस और माइनिंग विभाग के कागजो में अवैध खनन पर काबू पाने के बड़े बड़े दावे किए जा रहे है। वहीं कंदरोरी स्थित छोंछ खड्ड में इसकी धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। संबधित विभाग और पुलिस प्रशासन सख्त कारवाई का हवाला देकर अवैध खनन की सूचना पर कभी कभार ट्रैक्टर-ट्रालियों ओर जेसीबी मशीनों का चालान करके पल्ला झाड़ लेते हैं। वहीं खनन माफिया दिन-रात खड्डों को गहरा करने में लगा है। छोंछ खड्ड में हो रहे अवैध खनन पर अधिकारियों की सुस्ती और खनन माफिया की चुस्ती का सबसे ज्यादा असर निकटवर्ती ग्रामों की जनता को निकट भविष्य में झेलना पड़ेगा, जहाँ लोगो को पीने के पानी की किल्लत का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि निकटवर्ती ग्रामो में पानी का लेवल पहले ही काफी नीचे जा चुका है। वहीं सरकार द्वारा छोंछ खड्ड के तटीयकरन योजना को भी इस खनन से भारी नुकसान हो सकता है। ज्ञात रहे कि कंदरोरी छोंछ खड्ड पर बना पुल कुछ वर्ष पहले ही अवैध खनन की भेंट चढ़ चुका है।

वहीं जब माइनिंग इंस्पेक्टर प्रीत पाल से इस सदर्भ में बात की गई तो उन्होंने इस बात को मानने से साफ इन्कार कर दिया कि छोंछ खड्ड में लगभग 20 से 25 फुट गहरा खनन हुआ है। उन्होंने कहा कि 3 से 3.5 फुट ही खनन हुआ है।
परन्तु वास्तविकता की तस्वीरे कुछ और ही मंजर ब्यान करती हैं। जिससे विभाग की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़े होते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।