यूक्रेन में फंसे हैं ऊना जिला के 29 छात्र, जिला प्रशासन ने सरकार के माध्यम से केंद्र को भेजी सूची #news4
February 26th, 2022 | Post by :- | 262 Views

ऊना : यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों की वापसी को लेकर कवायद शुरू कर दी गई है। जिला प्रशासन ने ऊना जिला के करीब 29 छात्रों की सूची तैयार की है जो यूक्रेन में इस वक्त रह रहे हैं। जिला प्रशासन ने प्रदेश सरकार के माध्यम से यह सूची केंद्र सरकार को प्रेषित भी की है। इसके साथ ही जिला प्रशासन ने हेल्पलाइन नंबर 1077 जारी करते हुए जिला के अन्य लोगों से भी आह्वान किया है कि यदि किसी का कोई परिजन वर्तमान में यूक्रेन में रह रहा है तो उसके बारे में जानकारी तुरंत साझा की जाए।

यूक्रेन और रूस के बीच चल रहे युद्ध के बीच हिमाचल प्रदेश के ऊना जिला के भी छात्र-छात्राएं बीच मझधार फंसते नजर आ रहे हैं। यूक्रेन में फंसे हिमाचल के छात्र छात्राओं को रेस्क्यू करने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा केंद्र सरकार को हरसंभव सूचना उपलब्ध कराई जा रही है। जिला प्रशासन ने यूक्रेन में फंसे जिला के छात्रों की सूची ग्राम पंचायतों, संबंधित थाना प्रभारियों और एसडीएम के माध्यम से एकत्रित करते हुए प्रदेश सरकार को सौंप दी है। इस लिस्ट को केंद्र सरकार को भी भेज दिया गया है, ताकि यूक्रेन में फंसे जिला के स्टूडेंट को वापस लाने की कवायद शुरू की जा सके। जिला से सामने आए आंकड़ों के मुताबिक उपमंडल ऊना के 9, गगरेट के 11, हरोली के 4, बंगाणा के 3 और अंब के 2 छात्र यूक्रेन में शिक्षा हासिल कर रहे हैं। इन छात्र-छात्राओं को रेस्क्यू करने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर 1077 पर इन सभी छात्रों और उनके अभिभावकों से बातचीत की गई है। डीसी राघव शर्मा ने कहा है कि जिन भी लोगों के बच्चे या परिजन इस वक्त यूक्रेन में रह रहे हैं वह तुरंत उनकी सूचना इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर में देना सुनिश्चित करें। ताकि यूक्रेन में रह रहे हिमाचल के लोगों को वापस लाने की तरफ कदम बढ़ाए जा सके।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।