ऊना के लालसिंगी में बच्चा चोरी करने का प्रयास, लोगों ने धुनाई के बाद पुलिस के हवाले किए 3 आरोपी #news4
July 8th, 2022 | Post by :- | 119 Views

ऊना : जिला मुख्यालय के साथ सटे गांव लालसिंगी में चंडीगढ़-धर्मशाला नैशनल हाईवे पर एक घर से बच्चा चोरी किए जाने के प्रयास का मामला सामने आया है। स्थानीय लोगों ने बच्चा चोरी करने का प्रयास करने के आरोप में 3 लोगों को धर दबोचा और उनकी जमकर धुनाई करने के बाद उन्हें पुलिस के हवाले कर दिया। बताया जा रहा है कि 3 साल का बच्चा खेलते हुए अपने घर के मुख्य द्वार से बाहर आ गया और इसी दौरान (पीबी 06 एक्यू-7553) पर सवार 5 लोगों ने बच्चे को उठाने का प्रयास कर डाला। इन तीनों में एक अधेड़ आयु का व्यक्ति जबकि 2 युवक शामिल हैं।

बच्चे को उठाने का प्रयास करने के दौरान ही परिवार की एक बुजुर्ग महिला की नजर उन पर पड़ गई और उसने चीखना-चिल्लाना शुरू कर दिया। महिला के चिल्लाने की आवाज सुनकर सभी आरोपी बच्चे को छोड़ भागने का प्रयास करने लगे। इसी दौरान आसपास के दुकानदार मौके पर पहुंचे और उन्होंने तीनों लोगों को धर दबोचा। देखते ही देखते मौके पर लोगों का हुजूम इकट्ठा हो गया और बच्चा चोरी करने का प्रयास करने के आरोप में तीनों लोगों की जमकर धुनाई कर दी।

वहीं मामले की जानकारी मिलते ही डीएसपी हैडक्वार्टर डॉक्टर कुलविंदर सिंह टीम के साथ मौके पर पहुंचे और तीनों लोगों को थाना सदर ले गए। जहां इन तीनों से पूछताछ जारी है। बताया जा रहा है कि तीनों आरोपी पंजाब के गुरदासपुर जिला के रहने वाले हैं और प्रसिद्ध धार्मिक स्थल पीरनिगाह में माथा टेकने के लिए आए थे। बच्चे के पिता निरंजन ने बताया कि 3 लोगों द्वारा उनके बच्चे को उठाने का प्रयास किया गया, जिन्हें समय रहते पकड़ लिया गया और पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

उधर, एडिशनल एसपी प्रवीण कुमार धीमान ने बताया कि पुलिस ने तीनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है। बच्चा चोरी करने के प्रयास के आरोप में पकड़े गए तीनों आरोपी पंजाब के गुरदासपुर के रहने वाले हैं। पुलिस इन तीनों का पुराना रिकॉर्ड भी खंगाल रही है। मामले में कानून के अनुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।