करसोग में चिट्टे के मास्टरमाइंड सहित 3 गिरफ्तार, जानिए पुलिस को कैसे मिली सफलता #news4
March 20th, 2022 | Post by :- | 111 Views

करसोग : करसोग में जड़ें फैला रहे नशे के कारोबार को रोकने के लिए पुलिस का विशेष अभियान जारी है। इसी मुहिम के तहत पुलिस के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है। यहां शनिवार देर रात को चिट्टे के मास्टर माइंड बताए जा रहे युवक पुलिस के हत्थे चढ़े हैं। इस जुर्म में युवकों के खिलाफ थाना करसोग में मामला दर्ज कर लिया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक शनिवार देर रात को एएसआई प्रकाश चंद के नेतृत्व में पुलिस की टीम ठोगी मोड़ में गश्त पर थी। यहीं पर एक पिकअप (एचपी 30-6806) खड़ी थी। इस गाड़ी के अंदर चालक सहित 3 युवक बैठे थे। बताया जा रहा है कि गाड़ी तेल न होने की वजह से खड़ी हो गई थी, ऐसे में अचानक पुलिस को नजदीक आता देखकर तीनों ही युवक घबरा गए। इस पर पुलिस को शक हुआ और तीनों युवकों से देर रात सड़क पर खड़े रहने की वजह पूछी गई लेकिन युवक कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे सके।  पुलिस ने तीनों युवकों की तलाशी ली तो उनके कब्जे से 8.55 ग्राम चिट्टा बरामद हुआ।

ये युवक तत्तापानी से करसोग की ओर आ रहे थे। तीनों युवकों की पहचान कृष्ण चंद चौहान उर्फ गुजर (29), चालक घनश्याम (25) पुत्र तवारु निवासी गांव चुराग व इन्द्र सिंह (33) पुत्र प्रताप सिंह निवासी गांव कुमालटू क्यारकोटी शिमला के रूप में हुई है। इसमें इन्द्र सिंह की तलाश करसोग पुलिस को काफी समय से थी। इंद्र सिंह को चिट्टे का मास्टर माइंड बताया जा रहा है, जिसने सबसे पहले करसोग में चिट्टा लाया था जो आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया है। शिमला के क्यारकोटी का रहने वाला इन्द्र सिंह लंबे समय से चुराग में ही रह रहा है। इसके अतिरिक्त चिट्टे में कृष्ण चंद की संलिप्तता भी अधिक पाई बताई जा रही है। डीएसपी गीतांजलि ठाकुर ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि जब से करसोग में डीएसपी का कार्यभार संभाला है, इस दौरान एनडीपीएस मामलों के तहत जितने भी युवक गिरफ्तार किए हैं। इसमें इन दो युवकों के नाम ही सबसे ऊपर आए हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।