सेनेटाइजर की किल्लत दूर करने के लिए 45 नए लाइसेंस जारी
March 17th, 2020 | Post by :- | 182 Views

बीबीएन – कोरोना वायरस के खौफ के चलते सेनेटाइजर व हैंडवाश की बढ़ती मांग के मद्देनजर सरकार ने फार्मा कंपनियों से उत्पादन बढ़ाने क ो कहा है, ताकि इनकी किल्लत न हो। बतातें चलें कि अभी राज्य में फार्मा की तकरीबन 650 कंपनियां हैं, जिनमें से अभी तक महज 40 के पास ही सेनेटाइजर और हैंडवाश निर्माण का लाइसेंस था, लेकिन देश में संक्रमण की बढ़ोतरी के चलते इनकी मांग में जबरदस्त उछाल आया है। अब इसे खौफ कहें या सतर्कता मास्क और सेनेटाइजर की मांग बढ़ने के बाद अचानक ये दोनों बाजार से गायब हो गए हैं। इसी को मद्देनजर रखते हुए राज्य दवा नियंत्रक प्राधिकरण के पास धड़ाधड फार्मा कंपनियों ने इनके उत्पादन लाइसेंस के लिए आवदेन किया है, जिसके बाद अभी तक करीब 45 और नए लाइसेंस फार्मा व कास्मेटिक निर्माता कंपनीयों को जारी भी कर चुका है। सेनेटाइजर और हैंडवाश निर्माता कंपनियां दिन-रात उत्पादन में जुटी हैं, लेकिन इसके बावजूद बाजार की डिंमाड पूरी नहीं कर पा रही हैं। राज्य दवा नियंत्रक नवनीत मारवाहा ने बताया कि सेनेटाइजर व हैंडवाश की कि ल्लत न हो, इसके लिए सबंधित निर्माताओं को इनका उत्पादन बढ़ाने को कहा गया है। उधर, दवा उपनियंत्रक बद्दी मुनीष क पूर ने पुष्टि करते हुए बताया कि सेनेटाइजर की बढ़ती मांग और कमी को पूरा करने के लिए हाल ही में करीब 45 नए लाइसेंस जारी किए गए हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।