जवाहर नवोदय विद्यालय में 85 बच्चे कोरोना संक्रमित, उत्तराखंड में मिले 4 ओमिक्रॉन मरीज #news4
January 2nd, 2022 | Post by :- | 319 Views
उत्तराखंड नैनीताल जिले में स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय गंगरकोट में 85 बच्चे कोरोना वायरस की गिरफ्त में पाए जाने के बाद उत्तराखंड में हड़कंप मच गया। एक साथ इतने बच्चों के कोरोना संक्रमित होने से स्वास्थ्य विभाग हतप्रभ है। सभी को आइसोलेट कर दिया गया है। इसके अलावा जो बच्चे नेगेटिव पाए गए हैं। उन्हें घर भेजने को लेकर विचार किया जा रहा है।
इससे पहले अल्मोड़ा-हल्द्वानी हाईवे पर स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय गंगरकोट सुयालबाड़ी में पहले 11 बच्चे कोरोना संक्रमित पाए गए थे। इसे देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने एक कैंप लगाया और 496 सैंपल लिए जिसमें 85 बच्चे कोरोना संक्रमित पाए गए।
कोरोना वायरस के मामलों के सामने आने के बाद उपजिलाधिकारी राहुल शाह के निर्देश पर पहले ही विद्यालय को माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। इसके अलावा स्कूल में ही बच्चों को आइसोलेट किया जा रहा है और इसके लिए व्यवस्था बनाई जा रही है। जिन बच्चों के आरटी पीसीआर टेस्ट में नेगेटिव आए थे उनका रैपिड एंटीजन टेस्ट होंगे और रिपोर्ट आने के बाद उन्हें घर भेजा जा सकता है।
दूसरी तरफ कोरोना को लेकर दिन प्रतिदिन लापरवाही सामने आती रहती है नैनीताल में नववर्ष मनाने के लिए नागपुर से पहुंचा 19 वर्षीय एक पर्यटक कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद से फरार है। इससे पूरे शहर में हड़कंप मचा हुआ है।
स्वास्थ्य विभाग की सूचना के बाद पुलिस संक्रमित की तलाश में जुट गई है। जानकारी के अनुसार नागपुर महाराष्ट्र निवासी 19 वर्षीय एक युवक अपने परिवार के साथ नैनीताल घूमने पहुंचा था। होटल में रुकने के लिए युवक ने नैनीताल पहुंचकर बीडी पांडे अस्पताल में कोरोना जांच कराई। जांच में युवक कोरोना संक्रमित पाया गया, लेकिन रिपोर्ट मिलने से पहले ही युवक अस्पताल से फरार हो गया।
अस्पताल के पीएमएस डॉ. केएस धामी ने बताया कि इसकी लिखित सूचना पुलिस व प्रशासन को दी गई है। कोतवाल धर्मवीर सोलंकी ने बताया कि संक्रमित युवक की तलाश की जा
रही है।
उत्तराखंड में नए साल के पहले ही दिन ओमिक्रोन पॉजिटिव 4 नए मरीज चिन्हित किए गए हैं। स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. तृप्ति बहुगुणा द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार दून मेडिकल कॉलेज लैब द्वारा 4 मरीजों की कोविड-19 सैम्पल जांच रिपोर्ट पॉजिटिव मिलने के बाद की गयी जिनोम सिक्वेन्सिंग में ओमिक्रोन वेरिएंट के होने की पुष्टि हुई है।
जिन मरीजों में ओमिक्रोन वेरिएंट का पता चला है उनमें देहरादून निवासी एक 28 वर्षीय युवक का सैम्पल जांच हेतु 21 दिसम्बर को लिया गया था। यह युवक अंतर्राष्ट्रीय यात्रा द्वारा 17 दिसंबर को गुरुग्राम से देहरादून आया था। दूसरा मरीज त्यागी रोड, देहरादून निवासी 23 वर्षीय युवक है, जो 21 दिसम्बर को देहरादून आया था।
तीसरी मरीज त्यागी रोड, देहरादून निवासी 15 वर्षीय किशोरी है जो उक्त 23 वर्षीय युवक के सम्पर्क में होने के कारण इसकी गिरफ्त में आई इसकी कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है। चौथा मरीज 27 वर्षीय युवक अहमदाबाद, गुजरात निवासी है जो 21 दिसम्बर को अहमदाबाद से ऋषिकेश आया तथा 24 दिसंबर वापस अहमदाबाद चला गया।
इस अवधि में युवक का सैम्पल 23 दिसम्बर को जनपद पौड़ी गढ़वाल द्वारा कोविड-19 जांच हेतु लिया गया। जिसकी 24 दिसंबर को प्राप्त रिपोर्ट में कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने की पुष्टि हुई। इसके बाद इसकी जिनोम सिक्वेन्सिंग में ओमिक्रोन वेरिएंट के होने की भी पुष्टि हुई।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।