एक जमाती ने मुश्किल में डाली सैकड़ों लोगों की जान, गांव में बाइक पर घूमा था युवक
April 14th, 2020 | Post by :- | 292 Views

तब्लीगी जमात से जुड़े चौकीमन्यार गांव के मौलवी युवक सुमीन ने न केवल खुद को संकट में डाला, बल्कि कई अन्य लोगों की जिंदगी को भी खतरे में डाल दिया है। सुमीन का भाई उसे मोटरसाइकिल से नकड़ोह से लेकर चौकीमन्यार पहुंचा था। उसके बाद उसका भाई भी कई लोगों से मिलता रहा और अपने ससुराल भी पहुंचा था। इस बीच लोगों को जानकारी मिल गई और वे सतर्क हो गए। अब पुलिस और स्वास्थ्य महकमा ऐसी जानकारी उजागर होने के बाद उनके संपर्क में आए लोगों की पहचान में जुट गए हैं।

तब्लीगी जमात से जुड़े चौकीमन्यार के मौलवी युवक के के दिल्ली से 21 मार्च को अम्ब तक रेल के माध्यम से पहुंचने की जानकारी मिली है। इस युवक ने न तो यह जानकारी समय पर पुलिस को दी और तब्लीगी जमात के पॉजिटिव लोगों के संपर्क में आने की जानकारी को लोगों से भी छिपाया। ऐसे में उसके साथ कई लोगों की जान पर खतरा हो गया। इस युवक की लापरवाही यहीं नहीं थमी अौर उसने स्वास्थ्य महकमे के क्वारंटाइन के आदेशों का भी पालन नहीं किया। स्वजनों से भी उसकी मुलाकात हुई और इस बीच कुछ अन्य लोगों से भी उसका मिलना जुलना चला रहा।

जानकारी मिली है कि सुमीन मोहम्मद दिल्ली मरकज से वापिस 21 मार्च को अम्ब रेलवे स्टेशन पर रेल के माध्यम से पहुंचा था। उस समय वह कितने लोगों के संपर्क में आया होगा इसके बारे में जानकारी नहीं है, लेकिन लगभग दस दिनों तक वह नकड़ोह की उस मस्जिद में रहा जहां तब्लीगी जमात के कई लोग ठहरे हुए थे। तीन लोग उनमें से ही पाॅजिटिव पाए गए थे। अब नकड़ोह में स्थिति बिगड़ने की भनक लगते ही यह युवक अपने भाई की मदद से गांव तक आ पहुंचा। इसकी सूचना उसने उसी रोज किसी जिम्मेदार व्यक्ति को नहीं दी। ऐसे में उसने भाई के साथ एक बाइक पर सफर किया और उसका भाई भी कई लोगों के संपर्क में आ गया।

बताया जा रहा है कि सुमीन का भाई अपने ससुराल तक भी पहुंचा था, लेकिन लोगों ने उसका विरोध भी किया था। इस विरोध को देखते हुए उसे वापिस आना पड़ा था, लेकिन वह कई लोगों के साथ संपर्क कर चुका था। ऐसे में तब्लीगी जमात के साथ संपर्क करने वाले लोगों की संख्या 180 से करीब 230 तक जा पहुंची है। ऐसे में जिले में इस गांव से जांच के लिए भेजे गए सैंपलों पर खासकर सुमीन के नजदीकी लोगों के सैंपल की रिपोर्ट अहम रखती है। इस बीच सुमीन दिल्ली से लौटते समय ही संक्रमित था अथवा बाद में हुआ है इसे लेकर कहीं से अधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।

यह जरुर पता चला है कि सुमीन का पहला सैंपल जांच के बाद नेगेटिव पाया गया था। उसके दूसरे सैंपल के पॉजिटिव पाए जाने के बाद स्वास्थ्य महकमे के सामने बड़ा संकट पैदा हो गया।

उधर जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा. निखिल शर्मा का कहना है कि सुमीन और उसके संपर्क में आए लोगों के सैंपल लेने की प्रक्रिया जारी है। अधिकांश सैंपल ले लिए गए हैं। यह कार्रवाई मंगलवार तक पूरी हो सकती है। सैंपल की रिपोर्ट पर भी काफी कुछ निर्भर रहने वाला है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।