7 अप्रैल से 8700 फीट की ऊंचाई पर पहाड़ों में होगा क्रिकेट का अनोखा आयोजन। #news4
March 9th, 2022 | Post by :- | 181 Views

तीर्थन घाटी गुशैनी बंजार(परस राम भारती):- जिला कुल्लु उपमण्डल बंजार के तीर्थन घाटी की दूर दराज ग्राम पंचायत शिल्ली में दो वर्ष पूर्व शहीद हुए गरुली गांव के सैनिक लगन चन्द की याद में स्थानीय खेलकुद एवं पर्यटन विकास समिति द्वारा भिंडी थाच में गत वर्ष से 7 अप्रैल को शहीद लगन चन्द क्रिकेट मेमोरियल कप का आयोजन किया जा रहा है। इस बार भी गत वर्ष की भांति 8700 फीट की ऊंचाई पर पहाड़ों के बीच घने जंगलों से घिरे खुवसुरत मैदान भिंडी थाच में इस अनोखी क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन होगा। गत वर्ष 7 अप्रैल को इस प्रतियोगिता का शुभारंभ स्थानीय विधायक सुरेन्द्र शौरी द्वारा किया गया था। उस दौरान भिंडी थाच में क्रिकेट प्रेमियों का हजूम उमड़ पड़ा था और स्थानीय टीमों के अलावा जिला कुल्लू और बाहरी जिलों की कुल 78 टीमों ने इस प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। जिसमें बूम शंकर ग्राम पंचायत बागा चनोगी जिला मण्डी की टीम विजेता रही और ग्राम पंचायत सुचैहन विकास खण्ड बंजार की टीम रनरअप रही थी।

गौरतलब है कि तीर्थन घाटी के इस अनछुए खुबसूरत स्थल भिंडी थाच तक सड़क मार्ग से पैदल करीब एक घंटे की ट्रैकिंग करके ही पहुंचा जा सकता है। इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाले सभी खिलाड़ियों के ठहरने और खाने पीने की व्यवस्था स्थानीय खेलकूद एवं पर्यटन विकास समिती की ओर से की जाती है।

इस बार भी मेमोरियल कप क्रिकेट प्रतियोगिता को लेकर यहां के स्थानीय लोगों में भारी उत्साह देखने को मिल रहा है। शिल्ही पंचायत के गरूली और परवाड़ी गांव की खेलकूद एवं पर्यटन विकास समिति से जुड़े युवक और महिला मण्डल के लोग भिंडी थाच की साफ सफाई जुट गए हैं। यहां के युवाओं और महिलाओं ने इस मैदान के चारों ओर साफ सफाई करके यहां पर बेकार पड़े लकड़, पत्थर और खरपतवारों को हटा कर एकदम मैदान को एकदम से चकाचौंध कर दिया है। अब यह मैदान यहां पर आने वाले खिलाड़ियों और अन्य अतिथियों के स्वागत के लिए तैयार हो चुका है।

खेलकूद एवं पर्यटन विकास समिति के अध्यक्ष रमेश कायथ, उपाध्यक्ष रणजीत सिंह, सचिव डूर सिंह, कोषाध्यक्ष केहर सिंह आदि ने बतलाया कि दो वर्ष पूर्व शहीद हुए गरूली गांव के युवा सैनिक लगन चन्द की याद में उनके शहीदी दिवस गत वर्ष 7 अप्रैल, 2021 से इस मेमोरियल कप क्रिकेट प्रतियोगिता का शुभारंभ किया गया है जो भविष्य में भी हर साल इस कप का आयोजन होता रहेगा। इन्होंने बतलाया कि प्रतियोगिता के आयोजन को लेकर लगभग सभी तैयारियां पूर्ण हो चुकी है। इसमें हिस्सा लेने वाली टीमों से आवेदन मांगे गए हैं और टीमों के पंजीकरण की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है जिसकी अन्तिम तिथि 6 अप्रैल रहेगी।

इन्होंने बतलाया कि इस प्रतियोगिता के दौरान खिलाड़ियों की सुविधा के लिए खाने व ठहरने का इंतजाम समिति द्वारा किया जाएगा जिसमें ठहराव निःशुल्क रहेगा और एक खाने का प्रति व्यक्ति उचित शुल्क लिया जाएगा। इसके इलावा खाने पीने के लिए टी स्टॉल, सिडडू, मोमो कॉर्नर और अन्य स्थानीय पारम्परिक व्यंजनों के स्टॉल भी लगाए जाएंगे।

इस बार प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए प्रवेश शुल्क 5500 रुपय रखा गया है। विजेता टीम को प्रथम पुरस्कार के रूप में एक लाख ग्यारह हजार एक सौ ग्यारह 1,11,111 रुपये नगद और चाँदी जड़ित कप व किट तथा द्वितीय पुरस्कार में 55,555 रुपये नगद और कप प्रदान किये जाएंगे। इसके अलावा भी खिलाड़ियों को अन्य कई आकर्षक पुरस्कार और उपहार भी दिए जाएंगे।

अध्यक्ष रमेश कायथ का कहना है कि इस प्रतियोगिता के सफल आयोजन हेतु कुछ नियम एवं शर्तें भी तय की गई है जो भाग लेने वाली सभी टीमों और खिलाड़ियों को इन शर्तों का पालन करना होगा। प्रत्येक हिस्सा लेने वाली टीम को अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए 1000 रुपय का अग्रिम भुगतान करना पड़ेगा तभी टीम का पंजीकरण मान्य होगा। पेमेंट की रसीद, पंजिकरण की सुचना , पूल संख्या और मैच की तिथि के बारे हर टीम को व्हाट्सएप नम्बर पर सुचना दी जाएगी।अधिक जानकारी के लिए फोन और व्हाट्सएप नम्बर 6230421630 पर भी सम्पर्क कर सकते है।

रमेश कायथ ने बताया कि पर्यावरण संरक्षण का संदेश देती इस प्रतियोगिता में बीड़ी ,सिगरेट, शराब तथा पानी और अन्य पेय पदार्थों की प्लास्टिक की बोतलों आदि पर प्रतिबंध रहेगा l हालांकि इस दौरान जड़ी-बूटी युक्त चाय और स्थानीय व्यंजनों की सुविधा भी उपलब्ध रहेगी।

ग्राम पंचायत शिल्ही के उप प्रधान मोहर सिंह ठाकुर का कहना है कि इस प्रतियोगिता के आयोजन का मुख्य उद्देश्य युवाओं को नशे से दूर रहने तथा सेना में जाने के लिए प्रेरित करना, युवाओं को शारीरिक और मानसिक रूप से सक्षम बनाने के साथ-साथ ही सामाजिक कुरीतियों के प्रति चेतना जगाना भी है।एक ओर जहां इस आयोजन का उद्देश्य क्षेत्र में शहीद की यादों को संजोए रखना है वहीं दुसरी ओर क्षेत्र के अनछुए प्राकृतिक स्थलों को प्रकाश में लाना भी है ताकि इस क्षेत्र में भी पर्यटन व्यवसाय का आगाज हो।

ग्राम पंचायत शिल्ही की प्रधान शेतु देवी ने कहा कि पहाड़ के शिखर पर कुछ हटकर इस प्रतियोगिता की शुरुआत की गई है। ग्रामीण स्तर पर यह नूठा प्रयास है कि खिलाड़ियों के लिए रहने व ठहरने की समुचित व्यवस्था की जा रही है। इन्होंने बताया कि इस प्रतियोगिता में क्रिकेट के साथ-साथ पहाड़ी नाटी और महिलाओं की रस्साकशी जैसी अन्य मनोरंजक प्रतियोगिताएं भी करवाई जाएगी। उन्होंने सभी क्रिकेट प्रेमियों से इस प्रतियोगिता में बढ़-चढ़कर भाग लेने की अपील की है l

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।