एडीसी अरिंदम चौधरी ने की नशे से दूर रहने की अपील
July 6th, 2019 | Post by :- | 185 Views

ऊना (7 जुलाई)- 26 जून से 10 जुलाई तक चल रहे नशा निषेध पखवाड़ा के तहत आज जिला स्तरीय कार्यक्रम हिमाचल प्रदेश डिफेंस अकेडमी ऊना में मनाया गया, जिसकी अध्यक्षता अतिरिक्त उपायुक्त अरिंदम चौधरी ने की।
इस अवसर पर एडीसी ने कहा कि डब्ल्यूएचओ ने इस वर्ष पखवाड़े का थीम स्वास्थ्य से न्याय-न्याय से स्वास्थ्य रखा है। इसका मतलब है कि न्याय और स्वास्थ्य एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। उन्होंने युवाओं से नशे का त्याग करने की अपील करते हुए कहा कि धीरे-धीरे नशे का जाल हमारे समाज में भी पैर पसार रहा है और इससे सजग रहने की आवश्यकता है। अरिंदम चौधरी ने कहा कि नशा सिर्फ एक व्यक्ति की ही जान नहीं लेता बल्कि पूरा घर तबाह कर देता है। ऐसे में युवाओं को अपनी ऊर्जा को सकारात्मक दिशा में लगाना चाहिए और नशे से दूर रहना चाहिए।
कार्यक्रम में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रमन शर्मा ने कहा कि औषध दुरूपयोग का अर्थ है जब कोई व्यक्ति बिना डॉक्टर की सलाह से किसी दवा का प्रयोग करता है तो इससे न केवल उस इंसान को बल्कि दूसरों को भी नुकसान होता है। ये विश्व में पेट्रोलियम व हथियारों के तीसरे नंबर का कारोबार है, जिसका टर्नओवर 50,000 करोड़ रुपए है। यूएन के मुताबिक विश्व में 200 मिलियन लोग विभिन्न तरह के नशे जैसे अफीम, चरस, गांजा, कोकीन, हशीश इत्यादि के शिकार हैं और अकेले भारत में इनकी संख्या करीब 10 लाख है।
इस अवसर पर जन शिक्षा एवं सूचना अधिकारी कांता ठाकुर ने बताया कि आज युवा पीढ़ी गलत संगत में आकर नशे का शिकार हो जाती है। एक बार नशे के चक्रव्यूह में फंसकर इस लत से बाहर निकलना कठिन हो जाता है। नशीली दवाओं का सेवन जानलेवा है लेकिन इसका इलाज भी संभव है। क्षेत्रीय अस्पताल ऊना में नशे की लत से छुड़ाने के लिए ओएसटी केंद्र में निशुल्क इलाज किया जाता है।
भाषण प्रतियोगिता में आरती अव्वल
इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग की तरफ से भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें आरती प्रथम, नेहा दूसरे तथा आदिती तीसरे स्थान पर रहीं। सभी विजेताओं को नकद पुरस्कार प्रदान किए गए।
नशे से दूर रहने की शपथ भी दिलाई
सभी प्रतिभागियों को नशे से दूर रहने के लिए शपथ भी दिलाई गई। इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग से कार्यक्रम अधिकारी सुखदीप सिंह, जिला स्वास्थ्य शिक्षक गोपाल कृष्ण, बीसीसी कोऑर्डिनेटर कंचन माला, हिमाचल प्रदेश डिफेंस अकेडमी के निदेशक कर्नल डीपी वशिष्ठ, कर्नल कुलदीप जसवाल सहित समस्त स्टाफ तथा प्रशिक्षणार्थी उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।