कांगड़ा में प्रशासन ने 3215 दुकानों का किया निरीक्षण, 111 को चेतावनी व 63 डिपो होल्‍डर्स से जुर्माना वसूला #news4
December 29th, 2021 | Post by :- | 48 Views

धर्मशाला : अतिरिक्त उपायुक्त राहुल कुमार की अध्यक्षता में आज जिलास्तरीय सार्वजनिक वितरण समिति तथा सतर्कता समिति की समीक्षा बैठक संयुक्त निदेशक, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले, उत्तरी क्षेत्र, धर्मशाला के सभागार में हुई। एडीसी ने अधिकारियों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए पूरे समर्पण से कार्य करने और इससे जुड़ी लोगों की समस्याओं को शीघ्र निपटारा करने के निर्देश दिए। बैठक में जिला में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत आवश्यक वस्तुओं के वितरण की उपलब्धता सहित अन्य आवश्यक मामलों पर विस्तृत चर्चा की गई। उन्होंने खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रदेश सरकार द्वारा सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत उपलब्ध करवाई जा रही विभिन्न वस्तुओं की गुणवत्ता का निरीक्षण करें, ताकि आम लोगों को उचित गुणवत्ता की खाद्य सामग्री उपलब्ध हो सके।

जिला में 4,59,700 राशनकार्ड धारकों तक पहुंचाई जा रही आवश्यक वस्‍तुएं

एडीसी ने बताया कि ज़िला में कार्यरत 1081 उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से 4,59,700 राशन कार्ड धारकों को आवश्यक वस्तुओं का वितरण किया जा रहा है। इनमें एपीएल, बीपीएल, अंत्‍योदय अन्न योजना, प्राथमिक गृहस्थियां एवं अन्नपूर्णा योजना के तहत आने वाले लाभार्थी शामिल हैं।

3215 निरीक्षण किए, 111 को दी चेतावनी

जिला कांगड़ा में माह अगस्त, 2021 से माह नवंबर, 2021 तक कुल 3215 निरीक्षण किए गए। जिनमें 111 मामलों में चेतावनी दी गई है तथा 63 उचित मूल्यों की दुकानों व थोक केंद्रों में अनियमितताएं पाए जाने पर 48470 रुपए जुर्माना वसूला गया। इसके अतिरिक्त प्रतिबंधित पोलीथीन पाए जाने पर 16 हजार रुपयेे जुर्माना तथा 325 किलोग्राम दालें तथा 1557 किलोग्राम सब्जियां, फल जब्त कर 10 हजार रुपये वसूल कर सरकारी कोष में जमा करवा दिये गये हैं।

181 में से तीन सैंपल फेल 1.10 लाख रुपये लगा जुर्माना

एडीसी ने बताया कि विभाग द्वारा माह अगस्त, 2021 से नवम्बर, 2021 के दौरान विभिन्न खाद्यान्नों/विनिर्दिष्ट वस्तुओं के 181 सैंपल एकत्रित करने के उपरांत विश्लेषण हेतू प्रयोगशाला भेजे गए हैं, जिनमें से गन्दम आटा के तीन सैम्पल निर्धारित मानदंडों के अनुरूप नहीं पाए जाने पर दोषियों से 1.10 लाख रुपये जुर्माना किया गया।

35 गैस एजेंसियों के पास कुल 5,54,932 एलपीजी उपभोक्ता पंजीकृत

एडीसी ने बताया जिला में कार्यरत 35 गैस एजेंसियों के पास कुल 5,54,932 एलपीजी उपभोक्ता पंजीकृत हैं, जिन्हें गैस की आपूर्ति सुचारू रूप से करवाई जा रही है। जिला में कार्यरत सभी गैस एजेंसियों के लिए एलपीजी सिलेंणडरों के वितरण हेतु रूट चार्ट अधिसूचित करवाया गया है। तथा सभी गैस एजेंसियों को निर्धारित रूट चार्ट के अनुसार एलपीजी सिलेंडरों का वितरण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि एक अगस्त, 2021 से 30 नवंबर 2021 तक 10,40,577 एलपीजी सिलेंडरों की बिक्री की गई तथा जिला में एलपीजी सिलेंडरों की कोई कमी नहीं रही।

गृहिणी सुविधा योजना के तहत 66416 को दिए मुफ्त गैस कनेक्शन

एडीसी ने बताया कि जिला में पीओएस मशीनों के माध्यम से ही राशन कार्ड आधारित प्रणाली द्वारा खाद्यान्नों का वितरण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना के तहत 30 नवंबर, 2021 तक लाभार्थियों को 66416 मुफ्त गैस कनेक्शन उपलब्ध करवाए जा चुके हैं तथा इस योजना के तहत प्रत्येक लाभार्थी को एक मुफ्त रिफिल सिलेंडर उपलब्ध करवाए जाने का भी प्रावधान है। जिला में 30 नवंबर, 2021 तक 36625 पात्र लाभार्थियों को मुफ्त रिफिल जारी किये जा चुके हैं। इस दौरान बैठक में सार्वजनिक वितरक कमेठी द्वारा जिला के विकास खंडों में उचित मूल्यों की दुकानें आवंटित करने बारे चर्चा की गई तथा निर्धारित मापदंडों को पूरा करने वालों के लिए नई उचित मूल्य की दुकाने खोलने के लिए प्रचार प्रसार करने का निर्णय लिया गया।

ये रहे मौजूद

इस अवसर पर जिला परिषद् अध्यक्ष रमेश बराड़, जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक पुरुषोत्‍तम सिंह, परियोजना अधिकारी डीआरडीए सोनू गोयल सहित विभिन्न विभागों के तथा अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।