कोविड पर दीवाली के बाद रिव्यु, जरूरत हुई तो लगाई जाएगी पाबंदियां : मुख्यमंत्री #news4
October 31st, 2021 | Post by :- | 163 Views

शिमला : बीते कुछ दिनों से प्रदेश में कोरोना के मामलों में वृद्धि हुई है जिसको लेकर सरकार भी चिंतित है और दीवाली के बाद कोविड के हालातों पर रिव्यु करने की भी मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बात कही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कुछ दिनों से कोविड के मामले बढ़े हैं और स्कूलों में बच्चे पॉजिटिव पाए गए हैं जो चिंता का विषय है। दीवाली के बाद सभी पहलुओं पर रिव्यु किया जाएगा और अगर आवश्यकता महसूस हुई तो कुछ पाबंदियां भी लगाई जाएगी।

ऐतिहासिक रिज मैदान पर मनाया गया राष्ट्रीय एकता दिवस

देश आज पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि व सरदार वल्लभ भाई पटेल की 146वीं जयंती मना रहा है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने रिज मैदान पर स्थित इंदिरा गांधी की प्रतिमा और पटेल की मूर्ति पर पुष्प अर्पित कर उनको श्रद्धांजलि दी। इसके अलावा सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर मनाए जाने वाले राष्ट्रीय एकता दिवस पर मुख्यमंत्री ने रिज मैदान पर परेड की सलामी ली व राष्ट्रीय एकता की शपथ दिलाई। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि सरदार पटेल का देश की एकता व अखंडता को बनाए रखने में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। लेकिन उन्हें जो सम्मान मिलना चाहिए था वह नही मिल पा रहा था इसलिए 2014 में उन्हें स्मरण करने के लिए इस दिन को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया। गुजरात में सरदार पटेल की सबसे बड़ी स्टेचू ऑफ यूनिटी का निर्माण किया गया है। पटेल ने देश की स्वतंत्रता व इसके बाद 562 रियासतों के एकीकरण कर भारत निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। वहीं मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदिरा गांधी का देश की प्रधानमंत्री के तौर पर महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उन्होंने अपने जीवन का बलिदान राष्ट्र के लिए दे दिया, इसलिए उनको भी आज श्रद्धांजलि दी गयी है।

कोविड महामारी के कारण उत्पन वैश्विक परिस्थितियों की वजह से बढ़ी महंगाई

देश पिछले 2 वर्षों से कोविड-19 से जूझ रहा है ऐसे में देश व प्रदेश में विकास के काम प्रभावित हुए हैं जिससे महंगाई बढ़ी है। यह बात मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने उपचुनावों में महंगाई को मुद्दा बनाने वाली कांग्रेस पार्टी पर पलटवार करते हुए शिमला में कही। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने महंगाई के मुद्दे पर विपक्ष को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस ने उपचुनावों में महंगाई को मुद्दा बनाने की भरपूर कोशिश की लेकिन जनता जागरूक है वह सब जानती है। कांग्रेस के समय मे सिलेंडर 1360 रुपये तो प्याज 120 रुपये हो गया था जबकि चीनी तो बाजार से गायब ही हो गयी थी। ऐसे में महंगाई पहली बार नहीं है। देश कोविड की मार से जूझ रहा है ऐसे में महंगाई बढ़ी है जबकि कांग्रेस के समय में तो महामारी भी नहीं थी। मुख्यमंत्री ने उपचुनाव में जीत का दावा किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उपचुनावों में अमूमन कम संख्या में ही मतदान होता है लेकिन इस बार पहले की तुलना में वोट प्रतिशत अधिक रहा है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।