दूसरों का दर्द देख भूले अपनी पीड़ा, पुलिस अधिकारी ने फर्ज को देख टाला अपनी बीमारी का ऑपरेशन
April 22nd, 2020 | Post by :- | 171 Views

अपना दर्द भूल दूसरों के चेहरों पर मुस्कान बिखेरने वाला या फिर विकट हालत में जो दूसरों के काम आए वही सच्चा योद्धा कहलाता है। कुल्लू जिले के बंजार उपमंडल के पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) बिन्नी मिन्हास ने भी कुछ ऐसी मिसाल पेश की है जो कई लोगों के लिए नजीर बनेगी। अपनी जिम्मेदारी व फर्ज को देख पथरी का दर्द भूल गए। अस्पताल में भर्ती हो सर्जरी करवाने की बजाय दर्द निवारक की चार गोलियां लेकर फिर ड्यूटी पर लौट गए। जनता कफ्यरू से लेकर अब तक वह मोर्चे पर पूरी ईमानदारी से डटे हुए हैं।

बिन्नी मिन्हास को सोमवार रात अचानक पेट में तेज दर्द हुआ। अपने आवास से गाड़ी में बंजार अस्पताल चले गए। वहां चिकित्सकों ने दर्द निवारक इंजेक्शन लगाया। क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू के मेडिसिन विशेषज्ञ व सर्जन से परामर्श करने को कहा। मंगलवार सुबह वह कुल्लू अस्पताल पहुंचे। एक्स-रे व अल्ट्रासाउंड करवाया तो पेशाब की नली में 14एमएम की प् ाथरी फंसी हुई दिखी। चिकित्सकों ने बिन्नी मिन्हास को अस्पताल में भर्ती होकर तुरंत ऑपरेशन करवाने की सलाह दी।

स्कार्पियो से शराब पकड़ सोशल मीडिया में आए थे सुर्खियों में

बिन्नी मिन्हास कांगड़ा जिले के चढ़ियार के रहने वाले हैं। अब उन्होंने सुंदरनगर में अपना आवास बना लिया है। पुलिस विभाग में बतौर सब इंस्पेक्टर भर्ती हुए थे। चरस माफिया की संपत्ति सीज, फ्रीज करने में उनकी अहम भूमिका रही थी। ऊना जिले के हरोली में थाना प्रभारी रहते हुए चिट्टा माफिया की कमर तोड़ी। इसके बाद प्रतिनियुक्ति में सीबीआइ में चलते गए वहां उन्होंने कई बड़े मामलों की जांच कर आरोपितों को सलाखों के पीछे पहुंचाया। इंस्पेक्टर से डीएसपी पद पर पदोन्नत होने के बाद सीबीआइ से लौटे तो कुछ माह पहले ही डीएसपी बंजार के पद पर तैनाती मिली थी। उनके नेतृत्व में बंजार पुलिस अब तक 100 किलो से अधिक चरस बरामद कर चुकी है। कफ्यरू के दौरान स्कार्पियो गाड़ी से शराब की खेप पकड़ी थी। उनका वीडियो सोशल मीडिया पर खुब वायरल हुआ था।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।