यूजी सेमेस्टर सिस्टम परीक्षाओं के लिए 16 मार्च तक आवेदन
February 24th, 2020 | Post by :- | 144 Views

विवि ने यूजी डिग्री कोर्स में पूर्व में लागू सेमेस्टर सिस्टम की परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन परीक्षा फार्म भरने का शेड्यूल जारी कर दिया है। ग्यारह अप्रैल से शुरू होने वाली यूजी सेमेस्टर सिस्टम की परीक्षाओं में दूसरे और चौथे सेमेस्टर की रि-अपीयर जबकि छठे सेमेस्टर की रेगुलर परीक्षाओं के लिए फार्म भरे जाने हैं। इसके लिए परीक्षार्थी कॉलेज रेगुलर और इक्डोल के छात्रों को ऑनलाइन ही परीक्षा फार्म भरने होंगे, जिसके लिए 16 मार्च आवेदन की अंतिम तिथि तय की गई है। विवि के परीक्षा नियंत्रक डॉ. जेएस नेगी ने बताया कि विश्वविद्यालय के एग्जाम पोर्टल के माध्यम से छात्र परीक्षा फार्म भर सकते हैं। उन्होंने कहा कि रेगुलर छठे सेमेस्टर छात्र छात्राओं के परीक्षा फार्म भरवाने की जिम्मेदारी कॉलेजों की रहेगी। कॉलेज ही फार्म भरे जाने के बाद उसे सत्यापित करेगा। जिसकी हार्ड कॉपी विवि में जमा करवानी होगी। वहीं दूसरे और चौथे सेमेस्टर की रि-अपीयर के परीक्षा फार्म भरना छात्र स्वयं सुनिश्चित करें। विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर भी सेमेस्टर सिस्टम के परीक्षा फार्म भरे जाने से संबंधित जानकारी उपलब्ध रहेगी।

इस बार छठे सेमेस्टर में अपीयर होंगे करीब 45 हजार विद्यार्थी 
विवि से संबद्ध  यूजी कॉलेजों और इक्डोल के करीब 45 हजार छात्र सेमेस्टर सिस्टम की अंतिम छठे सेमेस्टर की परीक्षा में अपीयर होंगे। इनकी डिग्री पूरी होनी है। इसलिए विश्वविद्यालय की परीक्षा शाखा छठे सेमेस्टर में अपीयर होने वाले छात्र छात्राओं को पीजी प्रवेश की काउंसलिंग शुरू होने से पहले छठे सेमेस्टर का परिणाम घोषित करने के लिए पहले से तैयारियां कर रहा है, ताकि छात्रों को पीजी में प्रवेश लेने में कोई दिक्कत न हो।

यूजी के रिवेल्यूएशन नतीजे हो चुके हैं घोषित 
विश्वविद्यालय ने छात्र संगठनों की लगातार उठ रही यूजी प्रथम वर्ष के रिवेल्यूएशन के बीएससी, बीए और बीकॉम के परीक्षा परिणामों को घोषित कर दिया है। इन नतीजों को छात्र अपने दिए गए लॉगइन आईडी के माध्यम से मार्क्सशीट देख और डाउनलोड कर सकते हैं। यदि किसी छात्र का पूरा परिणाम घोषित नहीं हुआ है, वे विवि संपर्क कर सकते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।