इतने करोड़ में नीलाम हुए सिरमौर के तीन टाेल बैरियर, एक की नहीं हो पाई आक्‍शन #news4
March 25th, 2022 | Post by :- | 118 Views

नाहन : जिला सिरमौर के नाहन में शुक्रवार को राज्य आबकारी एवं कराधान विभाग की ओर से सिरमौर के चार टोल बैरियर यूनिट की नीलामी (आक्शन) की गई। इसके लिए आबकारी एवं कराधान विभाग के राज्य मुख्यालय शिमला से नीलामी प्रक्रिया में कलेक्टर के रूप में ज्वाइंट कमिश्नर आरडी जनारथा तथा एसआइटीओ प्रताप सिंह आब्जर्वर मौजूद रहे।

टोल नीलामी प्रक्रिया की अध्यक्षता उपायुक्त सिरमौर रामकुमार गौतम ने की, जबकि उनके साथ जिला सिरमौर के उप आयुक्त राज्य आबकारी एवं कराधान प्रीतपाल सिंह विशेष रूप से मौजूद रहे। जिला सिरमौर के चार टोल बैरियर यूनिट की नीलामी प्रक्रिया में केवल तीन ही टोल यूनिट नीलाम हो पाए। उत्तराखंड की सीमा पर स्थित मिनस टोल बैरियर शुक्रवार को नीलाम नहीं हो पाया तथा उसकी नीलामी रद कर दी गई, जबकि कालाअंब, पांवटा का गोविंदघाट तथा बहराल यूनिट गत वर्ष के ठेकेदार रमेश चौहान एंड कंपनी ने गत वर्ष की तुलना में 10.90 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ अपने नाम किए। रमेश चौहान पुत्र रंगीला राम निवासी डी-6 पांडव नगर मुजफ्फरनगर, उत्तर प्रदेश ने विभाग द्वारा रखे गए निर्धारित लक्ष्य से अधिक दाम चुकाकर तीन टोल यूनिट अपने नाम किए।

हिमाचल प्रदेश में इन दिनों राज्य आबकारी एवं कराधान विभाग प्रदेश की सीमा पर स्थित टोल बैरियर को नीलामी कर रहा है। प्रदेश के 11 टोल बैरियर यूनिट को इस बार 112.82 करोड़ से अधिक बेचने का लक्ष्य रखा गया है, जिसमें जिला सिरमौर के चार टोल बैरियर को बेचने का लक्ष्य 21 करोड़ 57 लाख 47 हजार 545 रुपये निर्धारित किया गया है। शुक्रवार को तीन टोल यूनिट 21 करोड़ 44 लाख 10 हजार रुपये में नीलाम हुए। वर्ष 2021-22 में यह तीन टोल बैरियर यूनिट 19 करोड़ 33 लाख 33 हजार 332 रुपये में नीलाम हुए थे। जिला सिरमौर में दो टोल बैरियर उत्तराखंड तथा दो टोल बैरियर हरियाणा की सीमा के साथ लगते हैं। जिला सिरमौर के औद्योगिक क्षेत्र कालाअंब की सीमा पर स्थित टोल बैरियर की बिक्री के लिए वर्ष 2022- 23 के लिए नौ करोड़ 25 लाख 46 हजार 665 रुपये लक्ष्य निर्धारित किया गया था, जो कि लक्ष्य से 0.68 प्रतिशत बढ़ोतरी के साथ नौ करोड़ 31 लाख 80 हजार रुपये में नीलाम हुआ। उत्तराखंड की सीमा पर पांवटा के गोविंदघाट टोल बैरियर सात करोड़ 78 लाख 80000 रुपये में बिक्री का लक्ष्य रखा गया था, जोकि लक्ष्य से 0.025 प्रतिशत बढ़ोतरी के साथ सात करोड़ 79 लाख रुपये में नीलाम हुआ। बहरहाल, टोल बैरियर यूनिट की बिक्री का लक्ष्य चार करोड़ 22 लाख 40000 रुपये निर्धारित किया गया था, जो कि लक्ष्य 2.50 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ चार करोड़ 33 लाख 30 हजार रुपये में नीलाम हुआ। उत्तराखंड की सीमा पर मिनस बैरियर की नीलामी लक्ष्य 38 लाख 80 हजार 880 रुपये तय किया गया था, जिसका प्राइस ठेकेदारों ने 10 लाख रुपये भरा था। जो कि निर्धारित लक्ष्य से 67 प्रतिशत कम था। इसलिए विभाग ने इस टोल यूनिट की नीलामी रद कर दी है।

क्‍या कहते हैं अधिकारी

जिला सिरमौर के उपआयुक्त राज्य आबकारी एवं कराधान प्रीतपाल सिंह ने बताया कि जिला सिरमौर के चार में से तीन टोल बैरियर यूनिट गत वर्ष की तुलना में 10.90 प्रतिशत बढ़ोतरी के साथ आक्शन हुए हैं, जबकि मिनस टोल यूनिट की नीलामी रद की गई है जिसे जल्द ही दोबारा से आक्शन किया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।