बर्फबारी से निपटने के लिए अभी से तैयारी रखें विभाग #news4
November 25th, 2021 | Post by :- | 66 Views

शिमला, जागरण संवाददाता। उपायुक्त आदित्य नेगी ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे बर्फबारी से निपटने के लिए दिसंबर के पहले सप्ताह तक अपनी तैयारी पूरी कर लें। उपायुक्त आदित्य नेगी वीरवार को शरद ऋतु एवं बर्फबारी से निपटने के लिए की जाने वाली तैयारियों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए संबोधित कर रहे थे। उन्होंने सभी विभागों को निर्देश दिए कि 30 नवंबर तक नोडल अधिकारियों की तैनाती कर दें। उन्होंने सर्दियों में आग की घटनाओं को रोकने के लिए विभागों को पंचायत स्तर तक विशेष प्रचार एवं जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए। प्रत्येक गांव में फायर हाइड्रेंट की उपलब्धता के लिए प्रयास किए जाएंगे ताकि अग्निशमन वाहनों को आग पर काबू पाने के लिए सुविधा हो सके।

पांच सेक्टर में बांटा शिमला शहर

बर्फबारी के दौरान शिमला शहर को पांच सेक्टर में बांटा गया है। सेक्टर एक के तहत संजौली, ढली, कुफरी, नालदेहरा, मशोबरा, बल्देयां, सेक्टर दो के तहत ढली-संजौली बाईपास, संजौली चौक-आइजीएमसी-रिगल, लक्कड़ बाजार से विक्ट्री टनल तक, कैथू, भराड़ी, चौड़ा मैदान, एजी आफिस, अनाडेल, उपायुक्त कार्यालय होंगे। इसके अलावा सेक्टर तीन के तहत बाईपास एनएच सड़क वाया आइएसबीटी से शोघी तक, चक्कर, बालूगंज, हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय, टुटू, जतोग, नाभा, फागली, खलीणी, बीसीएस, विकासनगर होंगे। सेक्टर चार के तहत विक्ट्री टनल से कार्ट रोड छोटा शिमला चौक, आरट्रैक, यूएस क्लब, मालरोड, रिज, जोधा निवास, होलीलोज, जाखू, रिज माउंट, राम चंद्रा चौक और सेक्टर पांच के तहत हाईकोर्ट, केएनएच, ओकओवर, राज भवन, बैनमोर, वन रोड, हिमाचल प्रदेश सचिवालय छोटा शिमला, मैहली, कसुम्पटी और पंथाघाटी शामिल हैं।

प्राथमिकता पर खोले जाएंगे ऊपरी शिमला के मार्ग

उपायुक्त नेगी ने लोक निर्माण विभाग को बर्फबारी के दौरान सड़कों को बहाल करने के लिए मशीन व श्रम की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। विशेष रूप से ऊपरी शिमला के ठियोग, चौपाल, रोहडू, कुमारसैन, रामपुर, शिमला शहरी व शिमला ग्रामीण की बहाली प्राथमिकता के आधार पर की जानी आवश्यक है।

विद्युत आपूर्ति को रखा जाएगा सुचारू

विद्युत आपूर्ति बर्फबारी में सुचारू रहे इसके लिए भी निर्देश दिए गए हैं। ट्रांसफार्मर की उपलब्धता एवं उपकरणों के रखरखाव को भी समय रहते सुनिश्चित करें। उन्होंने जल शक्ति विभाग को निर्देश दिए कि सुनिश्चित करें कि उनकी पानी की पाइपें भूमिगत हों ताकि बर्फबारी के दौरान वे जम न जाएं। बर्फ बाहुल्य व दूरदराज क्षेत्रों में 95 प्रतिशत खाद्य सामग्री आपूर्ति की जा चुकी है जबकि मिट्टी तेल की आपूर्ति 30 नवंबर तक कर दी जाएगी।

शहर के मार्ग खोलने के लिए विशेष योजना

उपायुक्त आदित्य नेगी ने शहर में प्रमुख मार्गों को खोलने के लिए सभी तैयारियों को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। पैदल चलने वाले मार्गों पर फिसलन को रोकने के लिए भी समुचित प्रबंध किए जाने आवश्यक हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।