डबल इंजन की भाजपा सरकार किसान और मजदूर विरोधी : बाबा हरदेव सिंह #news4
January 26th, 2022 | Post by :- | 100 Views

बिलासपुर : हिमाचल प्रदेश की सभी ट्रेड यूनियन के राज्य स्तरीय पदाधिकारियों की एक संयुक्त बैठक डॉक्टर कश्मीर सिंह ठाकुर राज्य संयोजक की अध्यक्षता में बिलासपुर में संपन्न हुई। बैठक में इंटक के राज्य अध्यक्ष बाबा हरदेव सिंह, सीटू के राज्य अध्यक्ष विजेंद्र मेहरा, एटक के राज्य उपप्रधान लेख राम वर्मा, जीवन बीमा संगठन के राज्य अध्यक्ष सुभाष भट और सचिव प्रदीप मिन्हास, सीटू के राज्य महासचिव प्रेम गौतम आदि ने भाग लिया। बैठक के उपरांत पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि हिमाचल प्रदेश में भी राष्ट्रीय ट्रेड यूनियन के आव्हान पर 23-24 फरवरी को प्रत्येक जिला और तहसील स्तर पर मजदूरों की संयुक्त रूप से हड़ताल की जा रही है। 23 और 24 फरवरी की हड़ताल को सफल बनाने के लिए 9 फरवरी को बद्दी जिला सोलन में राज्य स्तरीय सभी ट्रेड यूनियन का अधिवेशन का आयोजन किया जाएगा।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए इंटक के राज्य अध्यक्ष बाबा हरदेव सिंह ने कहा कि वर्तमान केंद्र सरकार देश के कामगारों और कर्मचारियों के हितों के साथ खिलवाड़ कर रही है। इसलिए पूरे देश के मजदूर वर्ग और कर्मचारियों के हितों की रक्षा करना सभी ट्रेडीनल का कर्तव्य बनता है। देश की और प्रदेश की भाजपा सरकार जो कि डबल इंजन का दम भरने की बात करते हैं आज यह सरकारें किसान मजदूर और बागवान विरोधी साबित हुई हैं, जो भी इन्होंने बड़े-बड़े कानून किसानों के हित में लाकर दिखावा किया है।

श्रम कानूनों को खत्म किया है उससे इन सरकारों के खिलाफ किसानों ने जो लंबी लड़ाई लड़ी है, जो केंद्रीय स्तर पर जॉइंट संगठन जो बनाया गया है। 23 और 24 फरवरी को राष्ट्रीय स्तर पर जो ट्रेड यूनियन की हड़ताल रखी गई है। उसको सफल बनाने के लिए आज बिलासपुर में रूपरेखा तैयार की गई। उन्होंने कहा कि 9 फरवरी को इस संदर्भ में जिला सोलन के नालागढ़ और बद्दी में ट्रेड यूनियन की एक बैठक का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें सभी यूनियन भाग लेगी और 23-24 फरवरी को राष्ट्रीय स्तर पर की जाने वाली हड़ताल को लेकर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।