भाजपा का प्रचार, कांग्रेस को प्रत्याशियों की तलाश
March 27th, 2019 | Post by :- | 161 Views

चुनावी रणनीति के तहत भाजपा कई मायनों में कांग्रेस से आगे है। भारतीय जनता पार्टी ने समय पर अपने प्रत्याशियों की घोषणा की, जिसके बाद यह प्रत्याशी चुनाव प्रचार में भी उतर आए हैं। एक तरफ भाजपा के प्रत्याशी फील्ड में उतर आए हैं, वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस में असमंजस का दौर चल रहा है। कांग्रेस का असमंजस भी ऐसा है कि खत्म होने का नाम नहीं ले रहा।  कांग्रेस  को अभी यही पता नहीं है कि कौन सी सीट पर उसका कौन सा प्रत्याशी होगा, क्योंकि कइयों के नाम पर चर्चा चल रही है। कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक अब 29 मार्च को होगी और तब तक यहां कयासों का दौर चलता रहेगा। दिल्ली मेंहुई बैठक में सभी मामलों पर चर्चा हो चुकी है, लेकिन कुछ भी फाइनल नहीं हो पाया। मंडी संसदीय क्षेत्र से आश्रय शर्मा को टिकट मिलेगा, ऐसा बोला जा रहा है, लेकिन जब तक सूची नहीं निकलेगी, तब तक अंतिम नहीं माना जा सकता।

इसी तरह से हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में सुरेश चंदेल के कांग्रेस में शामिल होने के भी कयास ही चलते रहे, जिस पर अब फिर से परिस्थिति मौन हो गई है। पार्टी के अपने नेता चुनाव से दूर भाग रहे हैं, जिनमें मुकेश अग्निहोत्री व सुखविंदर सुक्खू का नाम आगे है। कांगड़ा में पार्टी का प्रत्याशी कौन होगा यह भी कहा नहीं जा सकता, परंतु यहां पर सुधीर शर्मा का नाम सबसे आगे है। शिमला संसदीय क्षेत्र में एक ही नाम की रट लगी है, लेकिन दूसरे दावेदार भी जोर लगा रहे हैं। कुल मिलाकर पूरा संगठन असमंजस में फंसा है और भाजपा के प्रत्याशी पूरी तरह से चुनावी फील्ड में उतर आए हैं।  ऐसे में कांग्रेस प्रचार के मामले में भी भाजपा से पीछे है। फिलहाल प्रचार के मामले में कांगे्रस बैकफुट पर आ गई है। अभी तक उसके प्रत्याशी को दूर दूसरे नेता भी प्रचार में कहीं दिखाई नहीं दे रहे हैं। अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर जन चेतना यात्रा के जरिए वर्करों को सक्रिय कर रहे हैं लेकिन दूसरा कोई नेता कहीं नहीं दिख रहा।

29 को भी नामों पर कुछ कह नहीं सकते

29 मार्च को कांग्रेस अपने प्रत्याशियों की सूची जारी कर देगी, इसे लेकर भी साफ तौर पर कुछ कहा नहीं जा सकता। कांग्रेस के कद्दावर नेता वीरभद्र सिंह दिल्ली गए हैं, जो वहां पर आला नेताओं से चर्चा करेंगे। उनकी राय को पार्टी अहमियत देती है क्योंकि प्रदेश में कांग्रेस के वही एकमात्र स्टार प्रचारक हैं। ऐसे में वीरभद्र सिंह यहां पर किस-किस प्रत्याशी के लिए चुनाव प्रचार करेंगे यह भी तय नहीं है। सभी सीटों पर दिल्ली में उनकी राय ली जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।