सीबीएसई / नए सत्र से संस्कृत, अंग्रेजी और हिंदी के पैटर्न में होगा बदलाव, अब एनसीईआरटी प्रकाशित करेगी किताबें
March 17th, 2019 | Post by :- | 399 Views

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को नए बदलावों के साथ अगले सत्र में पढ़ाई करने का मौका मिलेगा। सीबीएसई की ओर से वेबसाइट पर एक नोटिफिकेशन जारी किया गया है। इसके हिसाब से संस्कृत, इंग्लिश और हिंदी के करिकुलम में बदलाव देखने को मिलेगा।

यह बदलाव कक्षा 9वीं से 12वीं तक के लिए होगा। इसमें इंटरनल असेसमेंट के साथ मूल्यांकन भी शामिल है। इसके साथ नए सत्र में भाषा की किताबें भी बदल जाएंगी। इसमें अंग्रेजी के साथ संस्कृत और हिन्दी की किताबें भी शामिल होंगी। इन तीनों विषयों की किताबें अब एनसीईआरटी द्वारा प्रकाशित की जाएंगी। अब तक भाषा की किताबें खुद सीबीएसई द्वारा प्रकाशित की जाती थीं। लेकिन अब इसमें नए प्रयोग देखने को मिलेंगे।

नए सत्र और करिकुलम की घोषणा 

स्कूलों में नए सत्र और करिकुलम की घोषणा बोर्ड द्वारा 16 मार्च को की जाएगी। जो करिकुलम घोषित होगा, उसे ही सभी स्कूलों में लागू किया जाएगा। बोर्ड की मानें तो स्कूल स्टडी पर छात्र का अधिक फोकस हो, इसके लिए इंटरनल असेसमेंट के 20 अंकों में बदलाव किया जाएगा। यह बदलाव कक्षा 9वीं-10वीं और 11वीं-12वीं में अलग-अलग किया जाएगा। एक्सपर्ट का कहना है कि मूल्यांकन और स्कूल वर्क में भी बदलाव होगा। इंटरनल असेसमेंट की जानकारी भी स्कूलों को जल्द दे दी जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।