नादौन नगर पंचायत की बैठक का बहिष्कार
October 17th, 2019 | Post by :- | 132 Views

नादौन नगर पंचायत में बुधवार को उस समय अजीबोगरीब स्थिति बन गई, जब यहां बुलाई गई बैठक का अधिकांश सदस्यों ने बहिष्कार कर दिया। ऐसे सदस्यों का कहना था कि नगर पंचायत में उनके द्वारा बताए गए कार्यों को तरजीह नहीं दी जाती है। वहीं, जो कार्य पिछली बैठक में तय किए गए थे, वह कार्य भी पूर्ण नहीं किए गए हैं, जिस कारण से सदस्यों ने इस बैठक में आने से ही इनकार कर दिया। नगर पंचायत उपाध्यक्षा मनोरमा देवी, पार्षद संतोष कुमारी, सोहन लाल सहित कुछ सदस्यों ने तो लिखित तौर पर यह कारण बताए हैं। वहीं, नगर पंचायत अध्यक्ष रीना देवी ने भी ऐसे सदस्यों का समर्थन करते हुए बैठक में आने से इनकार कर दिया। गौर हो कि बुधवार को प्रशासन द्वारा सुबह 11 बजे इस बैठक का आयोजन किया गया था, परंतु हंगामा तब आरंभ हुआ जब मनोनीत पार्षदों श्याम सोनी व योगराज ने कार्यालय पहुंचकर कर्मचारियों की खूब क्लास ली।

यह लोग इस बात से भी नाराज थे कि बैठक बुलाने के बाद समय पर सचिव और अन्य संबंधित कर्मचारी कार्यालय से नदारद थे। उन्होंने पूछा कि करीब दो माह के बाद आयोजित इस बैठक के रद्द होने की सूचना तक उन्हें नहीं दी गई। सोनी व योगराज ने बताया कि नगर पंचायम प्रशासन से पूछने पर ही उन्हें इस बात की जानकारी दी गई। जब अन्य पार्षदों से बात की गई, तो उन्होंने भी बैठक में न आने का कारण यही बताया कि उनके द्वारा बताए गए कार्य नहीं करवाए जा रहे हैं। मनोनीत पार्षदों ने आरोप लगाया कि उनके वार्डों में उनके कार्यकाल में एक पैसे का काम नहीं करवाया गया है। उन्होंने कहा कि करीब छह माह तक के कार्य पेंडिंग पड़े हैं, जबकि अधिकांश लोगों के भवन निर्माण कार्य इसलिए रुके हैं, क्योंकि कई माह से नगर पंचायत उनके भवनों के नक्शे तक पास नहीं किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि शहर भर की लाइटें कई माह से खराब पड़ी हैं, जिन्हें ठीक नहीं करवाया जा रहा है, जबकि लाइटों के नए लगने वाले कनेक्शन पोल लगने के बावजूद अभी तक नहीं लगवाए गए। वार्ड चार के पार्षद सोहन लाल ने बताया कि उनके वार्ड में बनने वाले जंजघर का कार्य स्वीकृति के बावजूद लटका पड़ा है। पार्षदों ने बताया कि शहर के मेन बाजार सहित अधिकांश गलियों में पैचवर्क न होने से रोजाना लोग गड्ढों में गिरकर घायल हो रहे हैं, परंतु जनहित में विकास कार्य आग्रह के बावजूद नहीं करवाए जा रहे। श्याम सोनी व योगराज ने शहरी विकास मंत्री सरवीण चौधरी से मांग की है कि नादौन नगर पंचायत के कार्यों की जांच की जाए तथा प्रशासन से रुके हुए कार्यों की रिपोर्ट तलब की जाए। इस संबंध में नगर पंचायत सचिव सतीश ठाकुर ने बताया कि त्योहरों के चलते महिला पार्षदों के अनुरोध पर यह बैठक स्थगित की गई है। उन्होंने बताया कि आगामी तिथि तय कर इस बैठक का आयोजन किया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।