ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कोरोना वायरस को हराया, अस्पताल से मिली छुट्टी
April 12th, 2020 | Post by :- | 131 Views

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कोरोना के खिलाफ ‘व्यक्तिगत लड़ाई’ जीत ली है। एक सप्ताह तक अस्पताल में चले इलाज के बाद उन्होंने कोरोना को हरा दिया है। उन्हें तीन दिन तक आईसीयू में भी रखना पड़ा था। रविवार को जॉनसन को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया गया। हालांकि अभी वह तुरंत ऑफिस नहीं जॉइन कर पाएंगे।

जॉनसन ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) के डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों को धन्यवाद देते हुए कहा कि दो हफ्ते पहले कोविड-19 की उनकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद जान बचाने के लिये वह उनके आभारी हैं। प्रवक्ता ने कहा, ‘उन्होंने (प्रधानमंत्री ने) सेंट थॉमस में शानदार देखभाल के लिये हर किसी को धन्यवाद दिया।

‘जान बचाने के लिए आभारी हूं’
अपने पहले अपने सार्वजनिक बयान में 55 वर्षीय जॉनसन ने कहा, ”…जान बचाने के लिए मैं उनका आभारी हूं।” जॉनसन को शनिवार को अस्पताल में गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) से बाहर लाया गया था। रविवार को अस्पताल में भर्ती हुए उन्हें सात दिन हो गए थे। जॉनसन ने डॉक्टरों की निगरानी में कुछ दूर तक चहलकदमी भी की। कहा जाता है कि जॉनसन की मंगेतर कैरी साइमंड्स ने उनका मनोबल बढ़ाने के लिए पत्र भेजे हैं। साइमंड्स उनके बच्चे की मां बनने वाली हैं। जॉनसन को हजारों कार्ड भी मिल रहे हैं जिनमें उनके जल्द स्वथ्य होने की कामना की गई है।

काम पर लौटने में लगेगा समय
उनके काम पर लौटने की योजनाओं के बारे में पूछे जाने पर भारतीय मूल की और ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री को पूरी तरह से ठीक होने के लिए कुछ समय की जरूरत है। इस बीच, प्रधानमंत्री की ओर से 10 डाउनिंग स्ट्रीट के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किए गए ईस्टर संदेश में लोगों को शुभकामनाएं देते हुए उनसे घरों में ही रहने का आग्रह किया गया है। पोस्ट में कहा गया है, ”इस साल देश भर में चर्च बंद रहेंगे, और परिवार अलग-अलग दिन बिताएंगे। लेकिन घरों में रहकर आप एनएचएस की रक्षा कर रहे हैं और जान बचा रहे हैं।”

ब्रिटेन में करीब 10 हजार लोगों की मौत
ब्रिटेन में करीब 88 हजार लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 9875 लोगों की मौत हो चुकी है। दुनियाभर में करीब 18 लाख लोग कोरोना संक्रमित हैं। इनमें से 1 लाख 10 हजार की मौत हो चुकी है। 4 लाख 12 हजार लोग ठीक हो चुके हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।