नाहन में भारतीय मानक ब्यूरो ने आयोजित किया एक दिवसीय जागरूकता कार्यक्रम #news4
April 19th, 2022 | Post by :- | 142 Views

नाहन : भारतीय मानक ब्यूरो के सहयोग से मंगलवार को विभिन्न विभागों के जिला प्रमुखों के लिए नाहन में एक दिवसीय जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता उपायुक्त सिरमौर राम कुमार गौतम ने की। उन्होंने बताया कि बीआईएस देश का गुणवत्तापूर्ण पारिस्थितिकी तंत्र है और भारतीय मानकों में निर्धारित गुणवत्ता, सुरक्षा और प्रदर्शन मानकों पर आधारित अनुरूपता आंकलन योजनाओं के माध्यम से अंतिम उपयोगकर्ताओं की जरूरतों को पूरा करता है।

उन्होंने कहा कि आईएसआई मार्क ग्राहकों को उत्पादों और सेवाओं की गुणवत्ता, सुरक्षा और विश्वसनीयता की थर्ड पार्टी गारंटी प्रदान करने का एक माध्यम है। उपायुक्त ने कहा कि भारतीय मानक ब्यूरो की मानकीकरण एवं प्रमाण योजना उपभोक्ताओं और उद्योगों को लाभ पहुंचाने के साथ-साथ विशेष रूप से उत्पाद सुरक्षा एवं उपभोक्ता संरक्षण की दिशा में कार्य करती है। इसके द्वारा खाद्य सुरक्षा, पर्यावरण संरक्षण, भवन और निर्माण इत्यादि जैसे क्षेत्रों में गुणवत्ता का अनुश्रवण भी सुनिश्चित किया जाता है। इस अवसर पर उपायुक्त ने जिलावासियों अपने घरों में पुराने पड़े गहनों की हाल मार्किंग नजदीकी हाल मार्किंग केंद्र पर अवश्य करवाने की अपील की ताकि उन गहनों की गुणवत्ता का पता चल सके।

उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि उत्पादों पर आईएसआई मार्क होना नितांत आवश्यक है। इसके अतिरिक्त अधिकारियों को समय-समय पर निरीक्षण करना चाहिए तथा उत्पादों के नमूने एकत्रित करके उनकी उचित जांच की जानी चाहिए। तय मानकों के अनुसार जांच में यदि कोई कमी पाई जाती है, तो संबंधित उत्पाद निर्माता के विरूद्ध उचित कार्रवाई अमल में लाई जानी चाहिए। भारतीय मानक ब्यूरो के राज्य शाखा प्रमुख अनिमेष कुमार ने विभागीय कार्यप्रणाली की विस्तृत जानकारी प्रदान की। बैठक में बीआईएस केयर ऐप के बारे में जानकारी दी गई, जिसके माध्यम से भारतीय मानकों, बीआईएस लाइसेंस, अनिवार्य आईएसआई मार्क के तहत उत्पादों, प्रयोगशाला सुविधाओं के बारे में आसानी से मूल्यांकन किया जा सकता है। बीआईएस केयर ऐप के जरिए उत्पादों पर आईएसआई मार्क और ज्वैलरी पर हॉलमार्क की प्रामाणिकता की जांच की जा सकती है।

बैठक में सरकारी विभागो द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाली वस्तुओं व उत्पादों के गुणवता के बारे में भी जानकारी दी, जिसके लिए भारतीय मानक और बीआईएस लाइसेंस उपलब्ध हैं, जिनका उपयोग विभाग द्वारा उनकी खरीद और निविदाओं में किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि भारतीय मानक ब्यूरो के अंर्तगत यदि किसी वस्तुओं की गुणवत्ता में कमी पाई जाती है, तो वह कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त बीआईएस केयर एप्प पर भी शिकायत कर सकते हैं। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त सिरमौर मनेश राव, सहायक आयुक्त प्रियंका चंद्रा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।