पचास फीसद सवारियां बैठाने से बस ऑपरेटरों का इंकार, थमे रहेंगे पहिये
April 14th, 2020 | Post by :- | 155 Views

निजी ऑपरेटर पचास फीसद सवारियां बैठाकर सड़कों पर बसें दौड़ाने के लिए अभी सहमत नहीं है। सोमवार को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से परिवहन मंत्री गोविंद ठाकुर ने निजी ऑपरेटर संघ के साथ बैठक की। इसमें मंत्री ने पूछा कि आप क्षमता से आधी सीटों पर सवारियां बैठाएंगे या नहीं?

इस पर निजी बस ऑपरेटर संघ के प्रदेश अध्यक्ष राजेश पराशर, महासचिव रमेश कमल से इंकार कर दिया। उन्होंने कहा कि वे पहले ही घाटे में हैं, लेकिन सरकार शारीरिक दूरी का फार्मूला अपनाएगी तो उस सूरत में बस ऑपरेटरों को सबसिडी दी जाए। मंत्री ने बसें जल्द चलाने के कोई संकेत नहीं दिए। बैठक को परिवहन मंत्री  गोविंद ठाकुर एवं निदेशक परिवहन कैप्टन जेएम पठानिया ने भी संबोधित किया। हिमाचल प्रदेश निजी बस ऑपरेटर संघ के प्रदेश महासचिव रमेश कमल ने कहा कि छह सूत्रीय मांगों पर चर्चा की गई।

परिवहन मंत्री ने आश्वासन दिया है कि सरकार इन पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश की निजी बस ऑपरेटर का टोकन टैक्स और विशेष पथ कर से संबंधित कोई भी मसला हो इस पर प्रदेश सरकार निजी बस ऑपरेटरों की हर संभव मदद करेगी। निदेशक कैप्टन जीएम पठानिया ने कहा कि निजी बस ऑपरेटरों की समस्याओं को निपटने के लिए हर संभव प्रयास होंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।