ठेकेदार के पास काम कर रहे कश्मीरी मजदूरों पर हमला, मुकदमा दर्ज
April 24th, 2020 | Post by :- | 181 Views

स्थानीय थाना क्षेत्र के तहत एनटीपीसी परिसर में एक ठेकेदार के यहां काम कर रही कश्मीरी लेबर के एक विशेष समुदाय से संबंधित कुछ लोगों पर स्थानीय इलाके के रहने वाले युवकों ने हमला कर दिया। इस हमले में कश्मीरी श्रमिकों को मामूली चोटें आई हैं। इसके बाद पुलिस ने इनका मेडिकल करवाकर हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। हमलावरों की पहचान कर ली गई है।

एसपी दिवाकर शर्मा ने वीरवार को खुद एनटीपीसी परिसर क्षेत्र का दौरा करके हालात का जायजा लिया और सभी श्रमिकों को एनटीपीसी परिसर में ही सुरक्षित स्थान पर भेज दिया है। इन्हें शारीरिक दूरी के नियम का पूरी तरह पालन करने के लिए कहा गया है। एसपी दिवाकर शर्मा ने बताया कि एनटीपीसी परिसर में एक ठेकेदार के पास काम कर रहे इन कश्मीरी श्रमिकों पर हमला किया गया था लेकिन अब इन्हें कोई खतरा नहीं है। ये एनटीपीसी परिसर में सुरक्षित जगह पर भेज दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि उन्होंने खुद आज इलाके का दौरा किया और निर्देश दिए कि किसी को भी इस तरह से कानून को हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जाएगी। इस समय में सांप्रदायिक सद्भावना बनाए रखते हुए सभी को मिलकर इंसानियत की रक्षा के लिए काम करना चाहिए।

व्यक्ति पर पीटने का आरोप

संजीव कुमार निवासी जलाड़ी ने पुलिस थाना नादौन में शिकायत दर्ज करवाकर गांव के ही व्यक्ति रमन पर पीटने का आरोप लगाया है। थाना प्रभारी प्रवीण राणा ने बताया शिकायत के आधार पर आरोपित के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है। संस

हिंदू जागरण मंच ने एफआइआर को गलत करार दिया

वहीं हिंदू जागरण मंच के नेता कमल गौतम ने पुलिस की ओर से की गई एफआइआर को गलत करार दिया है। सोशल मीडिया पर की गई अपनी टिप्पणी में कमल गौतम ने कहा है कि ये सभी लोग एकमुश्त नमाज पढ़ रहे थे। इन्हें जब मना किया गया तो ये स्थानीय लोगों के साथ उलझ गए। उन्होंने पुलिस की कार्रवाई को एकतरफा करार दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस ने दबाव में आकर एफआइआर दर्ज की है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।