रोजाना बढ़ रहे मामले, फिर भी सतर्कता में कमी #news4
January 19th, 2022 | Post by :- | 91 Views

शिमला : राजधानी शिमला के लक्कड़ बाजार से रिज आने वाले रास्ते में बढ़ती भीड़ कोरोना संक्रमण के मामलों को बढ़ा सकती है। यहां पर स्थानीय लोगों सहित पर्यटकों की काफी आवाजाही रहती है। सरकार के आदेश अनुसार स्थानीय लोग मास्क पहन रहे हैं, लेकिन पर्यटक नियम मानने को तैयार नहीं हैं।

पड़ोसी राज्यों से घूमने आए सैलानी कोरोना संबंधी नियमों के पालन को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। इससे संक्रमण के फैसले की आशंका बढ़ जाती है। शिमला में रोजाना कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं, जोकि चिंतनीय है। फिर भी लोगों के अंदर इसका कोई ज्यादा डर नहीं दिख रहा है। लक्कड़ बाजार से रिज मैदान पर सुबह से ही पुलिस कर्मी लोगों को मास्क पहनने की हिदायत देते दिखे, इसके बावजूद कोई व्यक्ति न माने तो उनके चालान किए गए। हालांकि प्रशासन ने कोरोना नियमों के प्रति जागरूक करने के लिए बोर्ड भी लगाए हैं। लक्कड़ बाजार में संक्रमण से बचने के लिए शारीरिक दूरी तो छोड़िए एक-दूसरे से लोग टकराते नजर आ रहे हैं। सुबह व शाम के समय यहां पर अधिक भीड़ हो रही है।

लक्कड़ बाजार में व्यापारियों के भी वही हाल दिखे। व्यापारी अपना समान बेचने के लिए कोरोना संबंधी नियमों को दरकिनार कर रहे हैं। इसके कारण संक्रमण का खतरा और ज्यादा बढ़ रहा है। मंगलवार को भी शिमला जिले में कोरोना के 507 नए मामले आए हैं। यदि बाजारों से लेकर अन्य स्थानों पर ऐसे ही हालात रहे तो आने वाले दिनों में हालात सुधरने के बजाय बिगड़ सकते हैं। सेल्फी के लिए भी भूल रहे हैं नियम

लक्कड़ बाजार से रिज मैदान का रास्ता रोमांच भरा होने के कारण यहां पर पर्यटकों की भीड़ होती है। यहां पर सेल्फी लेने के लिए भी लोग नियमों को भूल रहे हैं। स्थानीय लोग भी बाजार व आइजीएमसी आने के लिए इसी रास्ते का इस्तेमाल करते हैं। इसके कारण भीड़ पूरा दिन लगी रहती है। इसके कारण शारीरिक दूरी का पालन नहीं हो रहा है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।