सीमेंट उत्पादन होगा शुरू, स्टोन क्रशर से भी हटेगी पाबंदी, अन्य राज्यों से कच्चा माल लाने की छूट दी
April 21st, 2020 | Post by :- | 230 Views

उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ने हिमाचल प्रदेश में औद्योगिक उत्पादन को गति देने के लिए जिला उपायुक्तों और विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए। अब प्रदेश में शीघ्र ही सीमेंट उत्पादन शुरू होगा और बंद पड़े स्टोन क्रशर से भी पाबंदी हट जाएगी। शिमला स्थित सचिवालय से मंगलवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग से उन्होंने सूक्ष्म एवं लघु उद्योगों में काम शुरू करने का भी निर्देश दिया। मंत्री ने कहा कि जो उद्योगपति अपने औद्योगिक प्रतिष्ठानों में उत्पादन शुरू करना चाहते हैं। उनके आवेदनों को तुरंत अनुमति प्रदान की जाए।

सरकार ने मनरेगा कार्य और लोक निर्माण विभाग में सड़क व भवन निर्माण को मंजूरी प्रदान की है। इसी तरह से जल शक्ति विभाग में भी आवश्यक निर्माण कार्य शुरू होंगे। इसके लिए सीमेंट की जरूरत रहेगी। सीमेंट के साथ रेत, बजरी और पत्थर की आवश्यकता रहेगी। इसलिए सरकार शीघ्र ही सीमेंट उद्योगों को उत्पादन करने की अनुमति प्रदान करने वाली है। शहरी निकायों में स्थित स्टोन क्रशर नहीं खुलेंगे। कोरोना कंटेनमेंट क्षेत्र के तीन किलोमीटर के दायरे में भी स्टोन क्रशर निर्माण सामग्री तैयार नहीं कर सकेंगे।

ग्रामीण क्षेत्र में सुक्ष्म लघु उद्योग होंगे शुरू

अधिकारियों से कहा गया है कि ग्रामीण क्षेत्रों मे मौजूद शूक्ष्म एवं लघु उद्योगों में भी काम शुरू करने की संभावना तलाशें। बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ में छोटे व मझौले उद्योगों को पेश आ रही समस्याओं का समाधान करें। कोरोना के तहत जारी प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करते हुए उत्पादन गतिविधियां संचालित करें।

औद्योगिक संस्थानों के श्रमिकों को लाने की अनुमति

औद्योगिक संस्थानों के श्रमिक दूसरे जिलों में फंसे हुए हैं तो श्रमिकों को लाने की अनुमति दी जाएगी। उद्योगों में रोजाना श्रमिकों का तापमान जांच करने की व्यवस्था करनी होगी। 180 फॉर्मा उद्योगों में दवाइयों का उत्पादन शुरू हो चुका है। खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों ने भी काम शुरू कर दिया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।