चाणक्य नीति : अच्छी पत्नी में होते हैं ये 3 गुण और अच्छे पति में होनी चाहिए 5 बातें #news4
August 27th, 2022 | Post by :- | 75 Views
Chanakya niti: चाणक्य नीति के अनुसार दांपत्य जीवन में खुश रहने और उन्नति करने के लिए पति और पत्नी का गुणी होना जरूरी है। यदि पत्नी में 3 खास गुण और पति में 5 खास गुण रहे तो समझो जीवन तर गया।
पत्नी के 3 गुण- 3 qualities of a wife :
1. धार्मिक : चाणक्य नीति के अनुसार महिलाओं का धार्मिक होना जरूरी है। भगवान, प्रकृति और धर्म पर उसका विश्वास घर को सुरक्षित रखता है। ऐसी महिलाएं अच्छे और बुरे का अंतर तुरंत और आसानी कर लेती हैं। प्रकृति की पूजा करने से संतुलन का ज्ञान होना होता है।
2. मृदु भाषी : चाणक्य के अनुसार जिसकी पत्नी मीठा बोलने वाली है वो भाग्यशाली है। ऐसी महिलाएं कहीं भी रहे उसके संबंध सभी से अच्छे रहते हैं और उसी से घर में खुशी रहती है। उसकी सभी तारीफ करते हैं। अत: स्त्री की वाणी बहुत ही मधुर होनी चाहिए। कड़वे वचन नहीं बोलने चाहिए।
3. बचत : चाणक्य नीति के अनुसार जो महिला धन संचय करना जानती है उस परिवार पर अचानक विपत्ति आती है तो उसके परिवार को हानि नहीं होती है।
पति के 5 गुण- 5 qualities of a husband :
1. संतुष्ट : जिस प्रकार श्वान थोड़े से अन्न में संतुष्ट हो जाता है। ठीक उसी प्रकार जो पुरुष थोड़े से धन में संतुष्ट होकर परिवार का पेट पालता है वही सर्वश्रेष्ठ कहलाता है।
2. निष्ठावान : जिस तरह कुत्ता अपने मालिक के प्रति वफादार होता है, ठीक उसी तरह व्यक्ति को अपनी पत्नी और परिवार के प्रति वफादार होना चाहिए। जो पुरुष पराई स्त्री से संबंध बनाता है उसका जीवन नष्‍ट ही समझो।
3. चौकन्‍ना : जिस प्रकार कुत्ता गहरी नींद में भी चौकन्‍ना रहता है उसी तरह पति को भी अपने कर्तव्य और जिम्मेदारी के प्रति चौकन्‍ना रहना चाहिए। साथ ही उसे परिवार के शत्रुओं के प्रति भी हमेशा चौकन्ना रहना चाहिए।
4. रक्षक : एक पुरुष को अपनी पत्नि और परिवार की रक्षा के लिए यदि अपने प्राणों की भी आहूति देना पड़े तो इसकी चिंता नहीं करना चाहिए।
5. संतुष्टी देने में सक्षम : पुरुष को अपनी पत्नि को शारीरिक सुख देने में सक्षम होना चाहिए। वह अपनी पत्नी को हमेशा शारीरिक सुख के मामले में संतुष्ट रखें।
अस्वीकरण (Disclaimer) : चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, योग, धर्म, नीति, ज्योतिष आदि विषयों पर news4 में प्रकाशित, आलेख एवं समाचार सिर्फ आपकी जानकारी के लिए हैं। इनसे संबंधित किसी भी प्रयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।